अयोध्या में हड़कंप, पुजारी समेत 14 पुलिसकर्मी संक्रमित, राम मंदिर परिसर किया जा रहा सैनिटाइज

अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन कार्यक्रम है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी यहां पहुंच रहे हैं। इस बीच राम जन्मभूमि के पुजारी प्रदीप दास समेत सुरक्षा में लगे 14 पुलिसकर्मियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद पूरे शहर में हड़कंप मच गया है। रिपोर्ट आने के बाद सभी लोगों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। संपर्क में आए लोगों का सैंपल भी लिया जा रहा है। कहा जा रहा है कि मंदिर में इन लोगों के संपर्क में आए भक्तों की भी सैंपलिंग की जाएगी। रामजन्मभूमि के पूरे परिसर को सैनिटाइज किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि राम जन्मभूमि का सहायक पुजारी प्रदीप दास प्रधान पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास के शिष्य हैं। आचार्य सत्येंद्र दास का रिजल्ट निगेटिव आया है।

जन्मभूमि से 7-8 किलोमीटर की दूरी पर कोविड हॉस्पिटल
अयोध्या में दर्शन हॉस्पिटल को मुख्य कोविड हॉस्पिटल बनाया गया है, जो कि राम जन्मभूमि से सात से आठ किलोमीटर की दूरी पर है। अयोध्या जिला अस्पताल में सिर्फ कोरोना टेस्ट किया जाता है। वहां कोविड मरीजों को भर्ती नहीं किया जाता है।

भूमिपूजन में सैंकड़ों के शामिल होने की संभावना
गौरतलब है कि राम जन्मभूमि मंदिर का भूमि पूजन कार्यक्रम 5 अगस्त को होने वाला है। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सैंकड़ों लोग शामिल होने वाले हैं। कोरोना के कारण भूमिपूजन कार्यक्रम के लिए जन्म भूमि परिसर में 50-50 लोगों के अलग-अलग ब्लॉक में करीब 200 लोग मौजूद होंगे। 50 की संख्या में देश के बड़े साधु-संत मौजूद रहेंगे, 50 की संख्या में देश के बड़े नेता और आंदोलन से जुड़े लोग रहेंगे। इनमें लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती और कल्याण सिंह शामिल हैं।

10 कारसेवकों के परिवार होंगे शामिल
भूमि पूजन में बुलाए जाने वाले अतिथियों में योग गुरु बाबा रामदेव का नाम भी शामिल है। उनके अलावा कारसेवकों के दस परिवारों को बुलाया जा रहा है। उनके नाम फाइनल हो गए हैं।

10 बड़े उद्योगपतियों को बुलाया
ट्रस्ट की लिस्ट में 10 उद्योगपतियों के नाम हैं। बताया जा रहा है कि अतिथि की लिस्ट में रतन टाटा, मुकेश अम्बानी, गौतम अडानी, कुमार मंगलम बिड़ला, आनन्द महिंद्रा, राहुल और राजीव बजाज का नाम शामिल किया गया है।

अंसारी, रिज़वी ने मंजूर किया न्यौता
तीन में से दो मुस्लिम नेता, जिनके नाम राम मंदिर भूमि पूजन समारोह की निमंत्रण सूची में हैं- अयोध्या भूमि विवाद के मुक़दमेबाज़ इक़बाल अंसारी, और यूपी शिया वक़्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिज़वी। दोनों ने कहा है कि वो निमंत्रण स्वीकार करेंगे, और 5 अगस्त को भव्य समारोह में शिरकत करेंगे। लेकिन, सूची में तीसरा नाम, यूपी सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड के अध्यक्ष ज़फ़र फ़ारूक़ी ने कहा है, कि वो निमंत्रण मिलने के बाद ही फैसला करेंगे, कि कार्यक्रम में जाएंगे या नहीं।

अमेरिका के टाइम्स स्क्वायर पर दिखेगी भव्य तस्वीर
पांच अगस्त को राम मंदिर के भूमि पूजन के अवसर पर अमेरिका स्थित टाइम्स स्क्वायर में विशाल बिलबोर्ड पर भगवान राम और भव्य राम मंदिर के त्रिआयामी चित्र प्रदर्शित किए जाएंगे। आयोजकों का कहना है कि इस एतिहासिक क्षण को संजोने वाला यह अपनी तरह का अनोखा आयोजन होगा। अमेरिका भारत सार्वजनिक मामलों की समिति के अध्यक्ष जगदीश सेव्हानी ने कहा कि न्यूयार्क में पांच अगस्त को उस ऐतिहासिक क्षण का जश्‍न मनाने की तैयारी की जा रही है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। सेव्हानी ने कहा कि विशाल नैस्डेक स्क्रीन के अलावा 17,000 वर्ग फीट वाली एलईडी स्क्रीन पर त्रिआयामी चित्रों का प्रदर्शन किया जाएगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY