अब दो बार नहीं बन सकेंगे एक ही थाने के एसओ

लखनऊ। उप्र पुलिस के थानोंदारों को अब मलाईदार थाने दो बार नहीं मिल सकेगें। पुलिस महानिदेशक सैय्यद जावीद अहमद ने एक सर्कुलर जारी किया है। इस सर्कुलर के मुताबिक एक थाने पर थानेदारों की तैनाती दो बार नहीं हो सकेगी। इसलिए मलाईदार थानों पर बार-बार तैनाती करने वाले थानेदारों की न तो मनमानी चलेगी और न ही वे किसी जुगाड़ से दोबार तैनाती पा सकेंगें।

रविवार को पुलिस मुख्यालय में हुई एक बैठक में पुलिस महानिदेशक सैय्यद जावीद अहमद ने थानेदारों में युवा जोश भरने के लिए नियमावली में कुछ परिवर्तन करते हुए नये सर्कुलर जारी किये है। उन्होंने नये सर्कुलर में एक के बाद एक नियम को कड़ा किया है। बदले गये नियमों में तीन प्रकार के बिन्दु थानेदारों के लिए बेहद तनाव बढ़ाने वाले होंगे। इसमें पहले नियम में किसी भी थानेदार पर कोई मुकदमा चलता होगा तो उसे पांच साल तक थानेदारी नही मिल सकेगी। दुसरे नियम में अन्ठावन साल पार कर चुंके वर्दीधारी को थानेदार नही बनाया जायेगा। आखिरी नियम जो बेहद कठिन साबित होगा, उसमें एक थाने पर फिर से थानेदार नही दी जायेगी।

पुलिस महानिदेशक के सर्कुलर को आज दोपहर बाद सभी जोन कार्यालयों पर भेजा रहा है। इसके बाद से सभी बदलें गये नियमों का पालन शुरू हो जायेगा। ये जानकारी नये रंगरूटों को खुशी देने वाला भी है। जो साठ साल की आयु में थानेदार के दावेदार थे, अब वे थानेदार नही बन सकेंगे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY