फोंसेका ने किया अपना बचाव, पनामा पेपर्स के खुलासे को बताया अपराध

पनामा सिटी। पनामा पेपर्स का हालिया खुलासे ने दुनियाभर में तहलका मचा दिया है। दरअसल, इससे विश्व के उन सफेदपोशों के चेहरे बेनकाब हो गए हैं, जिन्होंने अपने देश को धोखा देकर या फिर धोखे में रखकर विदेशों में अपनी पूंजी छिपा रखी है। इस मामले में पनामा की विधि फर्म मोस्साक फोंसेका ने अपना बचाव करते हुए इसे एक अपराध बताया है।

फर्म का कहना है कि विदेशी लोगों द्वारा अपना कामकाज करना और अपनी पूंजी रखना उनका व्यक्तिगत मामला है। उन्होंने हमारे देश पर भरोसा कर यहां अपनी पूंजी लगाई है, लेकिन कई धनी ग्राहकों के विदेशों में स्थित कामकाज की जानकारी देते हुए पनामा पेपर्स का खुलासा करना एक अपराध है। इतना ही नहीं फोंसेका का कहना तो यहां है कि यह खुलासा पनामा पर एक तरह का हमला है।

उल्लेखनीय है कि पनामा पेपर्स के आंकड़े लीक होने की खबर विश्व भर में मीडिया ने छापी है। इन रिपोर्टों में बताया गया है कि किस प्रकार धनी राजनेता, सिलेब्रिटी और अन्य लोग कथित रूप से कर चोरी करके अपनी पूंजी छुपाने और धनशोधन करने के लिए इसका इस्तेमाल करते थे। हालांकि, पनामा की सरकार ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं और पनामा पेपर्स के आंकड़े लीक होने की कानूनी जांच में पूरा सहयोग करने का संकल्प लिया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY