लखनऊ में मायावती के खिलाफ क्षत्रिय संगठनों ने दिया धरना

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा के समीप महाराणा प्रताप जयंती आयोजन समिति के बैनर तले क्षत्रिय संगठनों ने बसपा सुप्रीमो मायावती के खिलाफ एक दिवसीय सांकेतिक धरना दिया।


महाराणा प्रताप जयंती आयोजन समिति के महासचिव एडवोकेट वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि बसपा की नेता मायावती के इशारे पर ही नसीमुद्दीन सिसिद्दीकी और सैकड़ों बसपाई कार्यकताओं ने दयाशंकर सिंह के परिवार की महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी की थी। मायावती को इस मामले में माफी मांगनी चाहिये। वहीं प्रशासन को मायावती के खिलाफ भी कार्यवाही करनी चाहिये।


उन्होंने बताया कि भाजपा के पूर्व उपाध्यक्ष की गलती की सजा उसकी पत्नी व मासूम बच्ची को भुगतनी पड़ रही है जबकि उनकी क्या गलती है। महिलाओं की सुरक्षा के लिये क्षत्रिय संगठनों का प्रशासन से अनुरोध है कि मायावती के खिलाफ भी उचित कार्यवाही करें।


उन्होंने कहा कि इस मामले में चंडीगढ़ से बसपा अध्यक्ष जन्नत जहां ने दयाशंकर की जीभ काटने पर पचास लाख का इनाम देने का फतवा जारी किया। इसलिए उनके खिलाफ भी कार्यवाही होनी चाहिये।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY