सुनहरे पलों की याद

अरुण नैथानी
कविता मनुष्य की अनुभूतियों और जीवनानुभवों की अभिव्यक्ति है। इसमें सुखद पक्ष भी है तो असहज अनुभवों की बानगी भी है। रोशन चिराग काव्य संकलन में सुमिता चौधरी की 86 कविताओं का संकलन है। इन उन्मुक्त कविताओं में उनके जीवन के गहरे अनुभव हैं।

कुछ कविताएं जहां जीवन के सुनहरे पलों को अभिव्यक्त करती हैं, वहीं रिश्तों की टीस आंखें नम भी करती हैं। रचनाकार ने शब्दों के जरिये स्मृतियों का मनोहारी चित्र उकेरा है। वे समाज के हर वर्ग के प्रति संवेदनशील नजर आती हैं। विशेष बात यह है कि उनकी कविताओं में बनावटीपन नहीं है। प्रेम के विविध रंग हैं, सामीप्य का आभास है और विछोह की विकलता भी है। उनका यह पहला कविता संग्रह नई उम्मीद जगाता है।

पुस्तक : रोशन चिराग 0रचनाकार : सुमिता चौधरी 0प्रकाशक : साहित्यागार, चौड़ा रास्ता, जयपुर 0पृष्ठ संख्या : 130 0मूल्य : ~ 250

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY