नगरोटा में सेना ने पूरे इलाके को घेरकर शुरू किया ऑपरेशन

जम्मू। नगरोटा में बुधवार सुबह से सेना ने सर्च ऑपरेशन जारी कर दिया है। नगरोटा हाईवे को पूरी तरह बंद रखा गया है। इस मार्ग पर किसी को भी आने जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है। मीडिया को भी आधा किलोमीटर पहले ही रोका गया है। यहां सेना प्रमुख दलवीर सिंह के आने की संभावना है। सेना ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर रखी है। जम्मू में हाई अलर्ट जारी है।

जम्मू के नगरोटा में मंगलवार सुबह आतंकियों ने सेना की यूनिट पर एक बड़ा आतंकी हमला किया जिसमें सेना के दो अधिकारी और पांच जवान शहीद हो गए। सेना ने जवाबी कार्रवाई में पुलिस की वर्दी आए तीन आतंकियों को मार गिराया है। सेना ने पूरे क्षेत्र को घेराबंदी में ले रखा है और बुधवार सुबह होते ही सेना ने एक बार फिर से तलाशी अभियान शुरू किया है। पुलिस की वर्दी में आए आतंकियों ने नगरोटा में 16 कोर के मुख्यालय के पास स्थित सेना की आर्टिलरी यूनिट पर मंगलवार को सुबह 5.40 हमला किया। आतंकी ग्रेनेड फेंकते हुए ऑफिसर्स मेस में घुसने में कामयाब हो गए। इस दौरान सेना के पांच जवान घायल हो गए जिनमें से एक अधिकारी सहित चार जवान शहीद हो गए। उसके बाद आतंकी सेना की मेस में घुसने में कामयाब हो गए जहां पर 12 जवान, दो महिलाएं और दो बच्चे मौजूद थे जिन्हें आतंकियों द्वारा बंदी बना लिया गया। उसके बाद सेना के जवानों ने दोनों बिल्डिंगों में घुसे आतंकियों को घेरने के लिए ऑपरेशन शुरू किया।

इस ऑपरेशन में सेना के जवानों, कमांडो व एसओजी के जवानों ने मोर्चा संभाला। लगभग 13 घंटे के आपरेशन के बाद सभी बंदी बनाए गए लोगों को आतंकियों के कब्जे से सुरक्षित छुड़ा लिया गया। इस दौरान सेना के एक अधिकारी व दो जवान शहीद हो गए। दोपहर तक सेना के जवानों ने दो आतंकियों को मार गिराया था और शाम होते-होते तीनों आतंकियों को ढेर कर दिया। इस आतंकी हमले में सेना के दो मेजर और पांच जवान शहीद हो गए हैं। बताते चलें कि यह आतंकी हमला उड़ी हमले की तरह ही एक बड़ी साजिश के तहत किया गया। इस दौरान नगरोटा क्षेत्र में सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया। राष्ट्रीय राजमार्ग को बंद किया गया और राज्य में हाई अलर्ट जारी किया गया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY