5 साल में 500 करोड़ रुपये निवेश करेगी इंटेक्स

नई दिल्ली । देश की अग्रणी प्रौद्योगिकी कंपनी इंटेक्स टेक्नोलॉजीज ग्रेटर नोएडा में एक विनिर्माण संयंत्र लगाने वाली है, जिसमें पहले साल 100 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा और अगले पांच साल में 500 करोड़ रुपये का निवेश होगा।इस संयंत्र से कंपनी हर साल 20 लाख मोबाइल फोन निर्मित होंगे और पहले साल ही 1,000 लोगों को रोजगार मिलेगा।

इंटेक्स टेक्नोलॉजीज के निदेशक और मुख्य वित्त अधिकारी राजीव जैन ने कहा, “ग्रेटर नोएडा में कंपनी 20 एकड़ जमीन पर अपना संयंत्र निर्मित करेगी। यहां पहले साल 100 करोड़ रुपये का निवेश किया जाएगा और अगले पांच साल में कंपनी 500 करोड़ रुपये निवेश की योजना है।”

राजीव जैन ने कहा, “पहले साल में 100 करोड़ रुपये के निवेश से काम शुरू किया जाएगा, जिससे करीब 1,000 लोगों को रोजगार मिलेगा। इस संयंत्र में फिलहाल मोबाइल फोन के निर्माण पर फोकस किया जाएगा। इसमें फीचर फोन और स्मार्टफोन शामिल हैं।”

मेक इन इंडिया अभियान के जोर पकड़ने पर जैन ने कहा कि इंटेक्स पहले से ही देश में निर्माण पर जोर देता रहा है और यही वजह है कि 31 मार्च 2016 तक, कंपनी के पास पांच विनिर्माण इकाइयां थीं। जम्मू और बद्दी में एक-एक, नोएडा में तीन, जो चीन और भारत से प्राप्त घटकों को असेंबल करती है। कंपनी वर्तमान में नोएडा में छठी निर्माण इकाई स्थापित करने के लिए काम कर रही है। जम्मू संयंत्र में जहां प्रतिवर्ष एक लाख टेलीविजन का उत्पादन किया जा रहा है वहीं बद्दी में स्पीकर का निर्माण होता है।

वर्ष 1996 में शुरू हुई इंटेक्स टेक्नोलॉजीज आज मोबाइल हैंडसेट, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स और आईटी एसेसरीज श्रेणी में प्रमुख खिलाड़ियों में शामिल है। ये ब्रांड मोबाइल हैंडसेट, मोबाइल एसेसरीज, मल्टीमीडिया स्पीकर, एलईडी टीवी और वॉशिंग मशीन से लेकर कपड़े तक 16 उत्पाद श्रेणियों का एक पोर्टफोलियो रखता है।

आईडीसी मंथली मोबाइल ट्रैकर के मुताबिक कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 2012 के 1.1 फीसदी से बढ़कर वित्त वर्ष 2016-17 की चौथी तिमाही में 12.5 फीसदी हो गई। यह वृद्धि बेचे गए हैंडसेट की संख्या के आधार पर है। वित्त वर्ष 2016-17 में कंपनी ने 2.94 करोड़ हैंडसेट बेचे और पिछले पांच वर्षो में हैंडसेट की बिक्री लगभग 119 फीसदी के सीएजीआर से बढ़ी है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY