‘भगवान महाकाल की शाही सवारी में रहेगी सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था’

उज्जैन। भगवान महाकाल की शाही सवारी आगामी सोमवार, 21 अगस्त को निकाली जाएगी। सवारी व्यवस्था एवं अन्य कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए संभागायुक्त एमबी ओझा एवं एडीजी मधुकर कुमार ने प्रशासन एवं पुलिस अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि जिन मजिस्ट्रेट्स की ड्यूटी सवारी मार्ग पर लगाई गई है, वह भीड़ नियंत्रण में अपनी सक्रिय भूमिका का निर्वहन करें। उन्होंने मजबूत बैरीकेटिंग व्यवस्था पर भी जोर देने के निर्देश दिए हैं। साथ ही कहा है कि घाटों पर निरंतर पेट्रोलिंग की जाए जिससे श्रद्धालुओं के जीवन की रक्षा की जा सके।

एडीजी ने कहा है कि सोमवती अमावस्या के अवसर पर न केवल सोम तीर्थ कुंड बल्कि शहर के सभी प्रमुख मंदिरों में पुलिस व्यवस्था भीड़ प्रबंधन के लिए लगाई जाए। उन्होंने नदी के घाटों पर तैराक तैनात करने एवम वर्किंग कंट्रोल रूम बनाने को कहा है। उन्होंने भस्मारती में भीड़ कंट्रोल करने तथा महाकाल की शाही सवारी में भक्त मंडलियों को आगे बढ़ाने के लिए पुलिस व प्रशासन के अधिकारी नियुक्त करने के निर्देश दिये हैं। यह निर्देश भी दिए कि पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी महाकाल की शाही सवारी वाले दिन रात्रि 12:00 बजे तक जब तक कि श्रद्धालु अपने-अपने घरों की ओर नहीं लौट नहीं जाते हैं, अपनी ड्यूटी पर तैनात रहें। एडीजी ने कहा कि पुलिस अधिकारी एवं आरक्षक श्रद्धालुओं से विनम्रता से पेश आएं। किसी भी तरह की अभद्रता न की जाए।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY