लुधियाना में RSS नेता की हत्या , राजनाथ ने की पंजाब के मुख्यमंत्री से बातचीत

चंडीगढ़। पंजाब के लुधियाना में दो अज्ञात व्यक्तियों ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के वरिष्ठ नेता नेता रविंदर गोसाईं की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि 60 वर्षीय नेता गोसाईं जब संघ की सुबह की शाखा में हिस्सा लेने के बाद घर लौट रहे थे तो उन पर मोटरसाइकिल से आए हमलावरों ने हमला किया। मौके पर ही उनकी मौत हो गयी और हमलावर फरार हो गये। लुधियाना के पुलिस आयुक्त आर एन ढोके ने बताया कि पुलिस उपायुक्त गगन अजी सिंह की अगुवाई में तीन सदस्यीय विशेष जांच दल बनाया गया है। दल में अन्य सदस्य संदीप गर्ग और राजवीर सिंह हैं। दोनों ही पुलिस उपायुक्त हैं।

आरएसएस के शहर सचिव यश गिरि ने गोसाईं की हत्या की निंदा की और कहा कि यह निश्चित ही निशाना बनाने की कार्रवाई है। उन्होंने कहा, ‘‘वह संघ की पोशाक में थे और जब वह घर में प्रवेश करने ही वाले थे तो हत्यारों ने उन्हें निशाना बनाया। ’’ पुलिस ने बताया कि वह अपराधियों के बारे में सुराग पाने के लिए इलाके में लगे कैमरों का सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहे हैं। सीसीटीवी में मुंह ढके हुए दो संदिग्ध मोटरसाइकिल पर दिख रहे हैं। ढोके ने कहा, ‘‘हम विभिन्न थ्योरी पर काम कर रहे हैं। पुलिस की टीमें हत्यारों को ढूंढ़ने के लिए विभिन्न स्थानों पर भेजी गयी हैं। ’’

उन्होंने कहा कि जांच चल रही है और फिलहाल इसे आतंकवादी घटना कहना जल्दबाजी होगा। इस बीच, पंजाब भाजपा के पूर्व प्रमुख कमल शर्मा ने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘‘:यात्रा पर आए: केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आरएसएस नेता रविंदर गोसाईं की हत्या का मामला पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के सामने उठाया है। ’’ शर्मा ने बताया कि राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री से इस मामले की तेजी से जांच कराने को कहा है।

उल्लेखनीय है पिछले साल एक अन्य आरएसएस नेता जगदीश गगनेजा को जालंधर में गोली मारी गयी थी और बाद में उनकी मौत हो गयी थी। यह घटना ऐसे समय में हुई है जब भाजपा केरल में आरएसएस और अपने कार्यकर्ताओं की हत्या के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। भाजपा और अकाली दल ने गोसाईं की हत्या की निंदा की है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY