बत्रा, खन्ना आईओए अध्यक्ष पद की दौड़ में, मेहता बनेंगे महासचिव

नयी दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय हाकी महासंघ के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा और शीर्ष टेनिस अधिकारी अनिल खन्ना 14 दिसंबर को होने वाले भारतीय ओलंपिक संघ के चुनावों में अध्यक्ष पद के लिये आमने सामने होंगे। भारतीय भारोत्तोलन महासंघ के अध्यक्ष बीरेंद्र बैश्य दौड़ से हट गये जिसके बाद बत्रा और अखिल भारतीय टेनिस संघ के पूर्व अध्यक्ष खन्ना ही इस शीर्ष पद के लिये मैदान में रह गये। बैश्य अब उपाध्यक्ष के आठ पदों में से एक पद के लिये चुनाव लड़ेंगे। उन्होंने इस पद के लिये भी नामांकन भरा था। नाम वापस लेने की अंतिम तिथि समाप्त होने के बाद निर्वाचन अधिकारी एस के मेंदीरत्ता ने यहां आईओए वार्षिक आम बैठक के दौरान होने वाले चुनावों के लिये उम्मीद्वारों की अंतिम सूची जारी की।

महासचिव पद को छोड़कर बाकी सभी अन्य पदों के लिये चुनाव होगा। निवर्तमान महासचिव राजीव मेहता का फिर से चार साल के कार्यकाल के लिये इस पद पर चुना जाना तय है क्योंकि केवल उन्होंने ही इस पद के लिये नामांकन भरा। झारखंड ओलंपिक संघ के प्रमुख आर के आनंद की वरिष्ठ उपाध्यक्ष के एकमात्र पद के लिये भारतीय कबड्डी महासंघ के पूर्व अध्यक्ष जनार्दन सिंह गहलौत के साथ सीधा मुकाबला होगा। मौजूदा वरिष्ठ उपाध्यक्ष वीरेंद्र नानावटी भी इस पद के लिये दौड़ में थे लेकिन उन्होंने नाम वापस ले लिया। नानावटी अब उपाध्यक्ष पद के लिये चुनाव लड़ेंगे।

कोषाध्यक्ष पद के लिये त्रिकोणीय मुकाबला होगा क्योंकि आनंदेश्वर पांडे, मुकेश कुमार और राकेश गुप्ता में से किसी ने भी नाम वापस नहीं लिया। उपाध्यक्ष पद के आठ पदों के लिये 12 उम्मीद्वार मैदान में हैं। इनमें भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के अध्यक्ष आदिल सुमरिवाला, भारतीय ल्यूज महासंघ के प्रमुख करण चौटाला और भाजपा राष्ट्रीय परिषद के पूर्व सदस्य सुधांशु मित्तल भी शामिल हैं। असम सरकार में वरिष्ठ मंत्री और भाजपा नेता हिमांता बिस्वा शर्मा और खेल प्रशासक तरलोचन सिंह ने उपाध्यक्ष पद से अपना नाम वापस ले लिया।संयुक्त सचिव के छह पद के लिये नौ उम्मीद्वार मैदान में है जबकि कार्यकारी परिषद के दस पदों के लिये 15 उम्मीद्वार अपना भाग्य आजमा रहे हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY