हमें विदेशों में भी निरंतरता बरकरार रखनी होगी: रोहित

विशाखापट्टनम। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और अंतिम वनडे में आठ विकेट से बड़ी जीत से लगातार आठवीं द्विपक्षीय श्रृंखला जीती और कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि टीम को विदेशी दौरों में निरंतरता बरकरार रखने की जरूरत है। शिखर धवन ने नाबाद शतक जमाया जिससे भारत ने यह मैच आसानी से जीतकर तीन मैचों की श्रृंखला 2-1 से अपने नाम की। भारत अब श्रीलंका से तीन मैचों की टी20 श्रृंखला खेलेगा और फिर दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाएगा। रोहित का मानना है कि यह युवा टीम आगे की कड़ी चुनौती के लिये तैयार है।

उन्होंने मैच के बाद कहा, ‘‘हमें यह निरंतरता बरकरार रखने की जरूरत है। हम अब विदेश दौरे पर जाएंगे तथा अगले डेढ़ साल चुनौतीपूर्ण होंगे और हमें इसके लिये तैयार रहना होगा। युवा खिलाड़ियों ने टीम में काफी ऊर्जा भरी है और मुझे पूरा विश्वास है कि आगामी चुनौतियों के तैयार होंगे।’’ रोहित ने पहले मैच में हार के बाद शानदार वापसी करने के लिये टीम की भी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘‘धर्मशाला में पहले मैच में हार के बाद हमने बेहतरीन वापसी की। हमारे खिलाड़ियों ने अपना जज्बा दिखाया। आज भी एक समय वे (श्रीलंका) छह रन प्रति ओवर की दर से रन बना रहे थे लेकिन हमने अच्छी वापसी की। यह इस टीम की पहचान है कि जब हम पर दबाव बनाया जाता है तब हम शानदार वापसी करते हैं।’’

विराट कोहली को विश्राम दिये जाने के कारण रोहित इस श्रृंखला में भारत की कप्तानी कर रहे थे। उन्होंने कहा, ‘‘कप्तान के रूप में पहला मैच कड़ी परीक्षा वाला रहा। दूसरे मैच में हमने पर्याप्त रन बनाये। कप्तान के रूप में खुद को स्थापित करने के हिसाब से वह मेरे लिये बहुत अच्छा मैच था। ’’रोहित ने जीत का श्रेय टीम को दिया लेकिन श्रेयस अय्यर की विशेष रूप से तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘‘जब भी हम मुश्किल परिस्थितियों में रहे तब हमने अच्छा खेल दिखाया। हम एक टीम के रूप में खेले और आखिर में यह मायने रखता है। श्रेयस अय्यर ने जिस तरह से बल्लेबाजी की वह बेहतरीन थी। उसने बेपरवाह बल्लेबाजी की।’’ श्रीलंका के कप्तान तिसारा परेरा ने पहले मैच में जीत के बाद श्रृंखला गंवाने पर निराशा जतायी।

उन्होंने कहा, ‘‘वास्तव में मुझे निराशा है। हमने पहले मैच में अच्छा प्रदर्शन किया और यह भारत को उसकी सरजमीं पर हराने का अच्छा मौका था लेकिन हम पिछले दो मैचों में दोनों विभागों में रणनीति पर अच्छी तरह से अमल नहीं कर पाये।’’ परेरा ने कहा, ‘‘हमने आज अच्छी शुरूआत की लेकिन मध्यक्रम इसका फायदा नहीं उठा पाया और हम पर्याप्त रन नहीं बना पाये। हम वनडे श्रृंखला गंवा चुके हैं और हमें उसे भुलाकर भविष्य पर ध्यान देना होगा।’’ धवन को मैन आफ द सीरीज चुना गया और उन्होंने कहा कि वह अभी सभी प्रारूपों में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी कर रहे हैं।

धवन ने कहा, ‘‘मुझे ऐसा लग रहा है कि जैसे मैं सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी कर रहा हूं। अब मैं अपने खेल को अच्छी तरह से समझता हूं जिससे मेरी निरंतरता बेहतर हो गयी है। मैं अनुभवी खिलाड़ी हूं और जानता हूं कि परिस्थितियों से कैसे निबटना है।’’ श्रीलंका के मध्यक्रम को लड़खड़ाने में अहम भूमिका निभाने वाले कुलदीप यादव को मैन आफ द मैच चुना गया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY