HWL फाइनल: क्वार्टर फाइनल में भारत से भिड़ेगा बेल्जियम

भुवनेश्वर। लीग चरण में एक भी मैच नहीं जीत सकी भारतीय टीम हाकी विश्व लीग फाइनल के क्वार्टर फाइनल में शानदार फार्म में चल रही बेल्जियम से खेलेगी जिसने आखिरी लीग मैच में यूरोपीय चैम्पियन नीदरलैंड को 3-0 से हराया। लीग चरण में अपने सारे मैच जीतकर पूल ए में शीर्ष रही बेल्जियम की चुनौती मौजूदा फार्म को देखते हुए भारत के लिये आसान नहीं होगी जो पूल बी में आखिरी स्थान पर रहा। मेजबान भारत ने पिछली बार टूर्नामेंट में कांस्य पदक जीता था और इस बार पदक का रंग बेहतर करने की उम्मीद थी लेकिन पहले मैच में आस्ट्रेलिया से ड्रा खेलने के बाद उसे इंग्लैंड और जर्मनी के हाथों पराजय झेलनी पड़ी।

दूसरी ओर बेल्जियम ने जहां ओलंपिक चैम्पियन और दुनिया की नंबर एक टीम अर्जेंटीना को पहले ही मैच में 3दृ2 से हराकर अपने इरादे जाहिर कर दिये थे, वहीं दूसरे मैच में स्पेन को 5 – 0 से पीटा। नीदरलैंड को 3-0 से हराकर उसने इसी साल एम्सटर्डम में हुई यूरो हाकी चैम्पियनशिप के फाइनल में मिली हार का बदला भी चुकता कर लिया। अनुभवी रूपिंदर पाल सिंह की वापसी के बावजूद पेनल्टी कार्नर तब्दील नहीं कर पा रही भारतीय टीम के लिये चट्टान की तरह अडिग बेल्जियम के डिफेंस को भेदना कड़ी चुनौती होगी। वहीं अंतिम क्षणों में गोल गंवा रहा

भारतीय डिफेंस आक्रमण पर आमादा बेल्जियम के स्ट्राइकरों को कैसे रोकेगा, यह भी देखना होगा। बेल्जियम ने पहले दोनों क्वार्टर में जबर्दस्त आक्रामक खेल दिखाते हुए नीदरलैंड को कोई मौका नहीं दिया । पहले क्वार्टर के आखिरी मिनट में ही उसे मैच का पहला पेनल्टी कार्नर मिला हालांकि नीदरलैंड के युवा गोलकीपर सैम वान डेर वेन ने उन्हें कामयाब नहीं होने दिया । सैम ने इस मैच में काफी मुस्तैदी दिखाते हुए कई गोल बचाये वरना हार का अंतर और अधिक होता। दूसरे क्वार्टर में पांचवें ही मिनट के भीतर बेल्जियम के लिये लोइक लुइपार्ट ने गोल करके बेल्जियम को बढत दिला दी।

एक गोल गंवाने के बाद नीदरलैंड ने जवाबी हमले बोले लेकिन कामयाबी नहीं मिली। बेल्जियम के लिये हाफटाइम से ठीक पहले लोइक ने पेनल्टी कार्नर पर दूसरा गोल करके बढत दुगुनी कर दी। ब्रेक के बाद भी नीदरलैंड का किस्मत ने साथ नहीं दिया। ब्रेक के दो मिनट बाद पेनल्टी कार्नर पर सफलता नहीं मिलने के बाद बेल्जियम ने अगले मिनट मिले पेनल्टी कार्नर पर टाम बून के गोल की मदद से बढत 3दृ0 की कर ली। इस बीच नीदरलैंड ने 49वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर गोल किया लेकिन बेल्जियम के वीडियो रेफरल लेने के बाद इसे रद्द कर दिया गया। अगले मिनट बेल्जियम को पेनल्टी कार्नर और फिर पेनल्टी स्ट्रोक मिला जिस पर लोइक गोल नहीं कर सके।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY