दिल्ली में रहना महंगा, अब आय के हिसाब से लगेगा प्रोफेशनल टैक्‍स!

नई दिल्ली: दिल्ली में रहना अब और महंगा हो जाएगा. उत्तरी दिल्ली नगर निगम अब आय के हिसाब से प्रोफेशनल टैक्‍स लेगा. उत्तरी दिल्ली नगर निगम ढाई लाख से ज्यादा कमाने वालों से सालाना 1200 से 2500 रुपए टैक्स वसूलने की तैयारी में है. उत्तरी दिल्ली नगर निगम के सामने कमिश्नर ने प्रोफेशनल टैक्स वसूलने का प्रस्ताव रखा है. नगर निगम इस टैक्स को वसूलने के लिए एक सेल बनाएगा, जो आयकर विभाग की मदद से ये काम करेगा.

क्‍या है प्रस्‍ताव 
2.5 लाख सालाना कमाने वालों से 1200 रुपए टैक्स
5 से 10 लाख सालाना आमदनी वालों से 2400 रुपए
10 लाख से ज्यादा आमदनी वालों से 2500 रुपए सालाना टैक्स लिया जाए.

एनडीएमसी के अतिरिक्त कमिश्नर रेणु जगदेव ने बताया कि इसके लिए अलग सेल बनाएंगे. इन्कम टैक्स से भी डाटा लेंगे और हम अपना सर्वे भी करेंगे. जहां भी इनकम स्लैब जो बनाया है उसी के मुताबिक टैक्स वसूल करेंगे.

उत्तरी दिल्ली नगर करीब 3300 करोड़ रुपए के घाटे में चल रही है. इसी के चलते प्रापर्टी टैक्स में भी 15 फीसदी बढ़ोतरी का इरादा है. यही नहीं अगर आपके इलाके के आसपास फ्लाईओवर या मेट्रो स्टेशन बना तो संपत्ति कर के अलावा आपको बेटरमेंट टैक्स के तौर पर 15 फीसदी ज्यादा देना पड़ेगा.

एनडीएमसी के कमिश्‍नर मधुप व्यास का कहना है कि बेटरमेंट टैक्स उन कॉलोनियों से वसूला जाएगा, जिसके बेटरमेंट के लिए हमने काम किया है. अगर हमने एक्स्ट्रा प्रोजेक्ट किया, जिससे उस इलाके के प्रापर्टी के रेट बढ़े हैं जैसे मेट्रो स्टेशन आ गया है तो वहां से टैक्स वसूला जाएगा. उत्तरी दिल्ली नगर निगम को उम्मीद है कि प्रोफेशनल टैक्स से करीब 100 करोड़ और बेटरमेंट टैक्स से करीब 450 करोड़ की आमदनी होगी, जिससे उसकी माली हालत सुधरेगी.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY