कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ कैंप पर आतंकवादी हमला, एक जवान शहीद, दो जवान घायल

नई दिल्ली: आज देर रात जम्मू- कश्मीर के पुलवामा जिले में लगभग दो भारी हथियाबंद आतंकियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के ट्रेनिंग कैंप पर हमला कर दिया जिसमें एक सुरक्षाकर्मी शहीद हो गया जबकि दो सुरक्षाकर्मी घायल हो गए. कश्मीर के पुलवामा जिले के लेथपोरा में सेंट्रल रिज़र्व पुलिस बल के कैम्प पर आज तड़के दो बजकर पंद्रह मिनट पर फिदायीन हमले में एक जवान शहीद हो गया जबकि तीन अन्य घायल हो गए. फिलहाल आतंकियों के खात्मे के फाइनल काउंट डाउन शुरू हो गया हैं. इसकी वजह यह है कि अब बिल्डिंग पूरी तरह से खाली करा दिया गया है. यहीं पर आतंकी छुपे हुए हैं.

रविवार दो बजे लेथपोरा इलाके में स्थित सीआरपीएफ के 185वीं बटालियन के कैम्प में दो से तीन आंतकवादी घुस गए. सीआरपीएफ के मुताबिक आतंकियों ने पहले हथगोला फेंका और उसके बाद फायरिंग शुरू कर दी. सीआरपीएफ के अधिकारियों के अनुसार ये मुठभेड़ अभी भी जारी है. फिलहाल बिल्डिंग को खाली करा लिया गया है. यहां रहने वाले सारे लोगों को भी बाहर सुरक्षित निकाल लिया गया हैं. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पुलवामा जिले के लाथपोरा लाडू में दो से तीन आतंकवादियों ने सीआरपीएफ शिविर के मेन गेट के पास तैनात जवानों पर ग्रेनेड और ऑटोमैटिक हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी कर हमला कर दिया.

इसके बाद आतंकवादी कैम्प में घुस गए. इस हमले में सीआरपीएफ के तीन जवान घायल हो गए जिन्हें तुरंत नजदीक के एक अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान एक जवान ने दम तोड़ दिया. शहीद जवान का नाम सैफ़ुद्दीन सोज़ हैं. ये जवान श्रीनगर के नौगाम का रहनेवाला था. ताजा जानकारी मिलने तक सुरक्षाबलों और कैम्प की एक इमारत में छिपे हुए आतंकवादियों के बीच गोलीबारी जारी है. लोकल मीडिया को वट्सऐप मेसेज भेजकर जैश ए मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी ली.

आतंकी संगठन का कहना है कि यह फिदायीन हमला उनके आतंकी कमांडर नूर त्राली की मौत का बदला लेने के लिए किया गया है.  घायल जवानों को एक अस्पताल ले जाया गया है. सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी और जम्मू-कश्मीर पुलिस के अधिकारी सीआरपीएफ शिविर पहुंच चुके हैं. घायल जवानों को एक अस्पताल ले जाया गया है. सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी और जम्मू-कश्मीर पुलिस के अधिकारी सीआरपीएफ शिविर पहुंच चुके हैं. जम्मू-कश्मीर में इस साल अब तक सुरक्षाबलों और पुलिस ने ‘ऑपरेशन ऑल आउट’ के तहत करीब  210 आतंकवादियों को मार गिराया है. आतंकवादी इसी से बौखलाए हुए हैं और सुरक्षा कैंपों को अपना निशाना बना रहे हैं.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY