अवैध प्रवासियों की वापसी को लेकर भारत, ब्रिटेन ने किया समझौता

लंदन। भारत और ब्रिटेन ने अवैध भारतीय प्रवासियों की वापसी, आपराधिक और खुफिया रिकॉर्ड साझा करने को लेकर दो समझौतों पर हस्ताक्षर किया है। यह समझौता ऐसे समय में हुआ है जब भारत 9,000 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी और धनशोधन के मामले में वांछित शराब कारोबारी विजय माल्या के ब्रिटेन से जल्द प्रत्यर्पण के लिए ब्रिटेन से मदद की मांग कर रहा है।

ब्रिटेन की आव्रजन मंत्री कैरोलिन नोक्स और भारत के गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजू ने बृहस्पतिवार को समझौता पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया। ब्रिटेन की सरकार की ओर से आज जारी एक बयान में कहा गया है कि नये समझौते दोनों देशों के बीच सहयोग में वृद्धि को दर्शाते हैं, जिनके बीच पहले ही करीबी ताल्लुकात रहे हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY