पुलवामा आतंकी हमला: राजनाथ सिंह ने कहा, बेकार नहीं जाएगा जवानों का बलिदान

नई दिल्ली: जम्मू- कश्मीर के पुलवामा जिले में रविवार सुबह आतंकियों ने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के ट्रेनिंग कैंप पर हमला किया था जिसमें पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए थे और सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को मार गिराया. इस मामले में केन्‍द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि आतंकियों ने कायरतापूर्ण काम किया है और हमें अपने बहादुर जवानों पर गर्व है. उन्‍होंने कहा कि उनका बलिदान खाली नहीं जाएगा और पूरा देश जवानों के परिवार के साथ है.

पुलवामा जिले के लेथपोरा में सेंट्रल रिज़र्व पुलिस बल के कैम्प पर हुए हमले में रविवार शाम को सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन रोक दिया था जो सोमवार सुबह फिर से शुरू कर दिया है. सुरक्षाबल एक-एकर कर सभी इमारतों की तलाशी ले रहे हैं. वहीं आतंकियों ने रविवार तड़के दो बजकर पंद्रह मिनट पर फिदायीन हमला किया था. यह हमला सीआरपीएफ के 185वीं बटालियन के कैम्प में दो से तीन आंतकवादी घुस गए थे. सीआरपीएफ के मुताबिक, आतंकियों ने पहले हथगोला फेंका और उसके बाद फायरिंग शुरू कर दी थी. बिल्डिंग को खाली करा लिया गया और यहां रहने वाले सारे लोगों को भी बाहर सुरक्षित निकाल लिया गया था. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि दो से तीन आतंकवादियों ने सीआरपीएफ शिविर के मेन गेट के पास तैनात जवानों पर ग्रेनेड फेंके और ऑटोमैटिक हथियारों से अंधाधुंध गोलीबारी की थी.

इसके बाद आतंकवादी कैम्प में घुस गए. पाकिस्तान आधारित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी. जम्मू-कश्मीर में इस साल अब तक सुरक्षाबलों और पुलिस ने ‘ऑपरेशन ऑल आउट’ के तहत करीब  210 आतंकवादियों को मार गिराया है. आतंकवादी इसी से बौखलाए हुए हैं और सुरक्षा कैंपों को अपना निशाना बना रहे हैं.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY