उपराष्ट्रपति नायडू ने सरदार पटेल को बताया अपना आदर्श, कहा-उनका योगदान अविस्मरणीय

नयी दिल्ली। उपराष्‍ट्रपति एम. वैंकेया नायडू ने देश के पहले उप प्रधानमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल को अपना आदर्श बताते हुये कहा है कि वह भारतीय संस्कृति के प्रतीक थे। नायडू ने यहां उपराष्‍ट्रपति सचिवालय में नवर्निमित सरदार पटेल सम्‍मेलन सभागार का उद्घाटन करने के बाद अपने संबोधन में कहा कि आजादी के बाद देश की एकता और अखंडता को सुनिश्चित करने में सरदार पटेल का योगदान अविस्मरणीय है। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने 500 से अधिक राजे-रजवाड़ों को एकजुट कर देश में एकता कायम की थी। इतना ही नहीं देश में प्रशासनिक और पुलिस जैसी सेवायें शुरू करने में भी सरदार पटेल की महत्‍वपूर्ण भूमिका थी।

इस अवसर पर नायडू ने लोकतंत्र के लिए संवाद की अहमियत का जिक्र करते हुये कहा कि संसद के अंदर और बाहर विचार-विमर्श, बातचीत, विचारों का संगम लोकतांत्रिक व्यवस्था का महत्वपूर्ण आधार होता है। उपराष्ट्रपति ने सभागार का निर्माण रिकॉर्ड तीन महीने में पूरा करने के लिए शहरी विकास मंत्रालय, केंद्रीय लोक निर्माण विभाग, और एनडीएमसी सहित अन्य संबद्ध एजेंसियों की सराहना की।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY