दिल के स्वास्थ्य के लिए जरूरी है हरा धनिया, जानिये कुछ और फायदे

जब भी आप बाजार सब्जी लेने जाते हैं तो सब्जी वाले से धनिया मुफ्त में ले आते हैं और सब्जी के साथ मुफ्त में मिलने वाले धनिए पत्ते को अपनी सब्जी में डालकर अपने भोजन की शोभा बढ़ाते हैं। इस धनिए के पत्तों के कारण आपके हाथ का बनाया गया भोजन देखने में काफी लजीजदार लगता है। लेकिन अगर आप सोचते हैं कि यह हरा धनिया सिर्फ भोजन की प्रेजेंटेशन को बेहतरीन बनाने का काम करता है तो आप गलत हैं। तो चलिए आज हम आपको इससे मिलने वाले कुछ बेहतरीन लाभों के बारे में बताते हैं-

मिलते हैं पोषक तत्व
धनिए से आपको बहुत से पोषक तत्व प्राप्त होते हैं। इन पोषक तत्वों में थयमीन, जिंक, फाइबर, विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन के, विटामिन बी6, फोलेट, कैल्शियम, आयरन, मैग्नशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, कापर और मैगनीज आदि मुख्य हैं। धनिए में मिलने वाले इन पोषक तत्वों के कारण ही इसका सेवन आपको बहुत सी बीमारियों में राहत दिलाता है।
बेहतर बनाए याद्दाश्त
कुछ लोग अक्सर अपनी कमजोर याद्दाश्त का रोना रोते हैं। अगर आप भी अपनी कमजोर याद्दाश्त से परेशान हैं तो आपको धनिए को अपने आहार का मुख्य हिस्सा बनाना चाहिए। आप अपनी मेमोरी को बेहतर बनाने के लिए धनिया पाउडर को शहद में मिलाकर इसका सेवन करें। इससे आपकी स्मरण शक्ति अच्छी होती है। साथ ही अगर आप चाहें तो धनिए की चटनी बनाकर भी उसका सेवन कर सकते हैं।
करे पेट की परेशानियों को दूर
अगर आप अक्सर अपने पेट को लेकर परेशान रहते हैं। मसलन, आपको पेट में दर्द, कब्ज, पेट फूलना, इरिटेबल बाउल सिंड्रोम आदि समस्या हैं तो आपको धनिए का सेवन करना चाहिए। दरअसल, यह एक एंटीस्पास्मोडिक दवा की तरह काम करता है और लिवर के फंक्शन और बाउल मूवमेंट को बेहतर बनाने का काम करता है।
हृदय के लिए फायदेमंद
धनिए को हृदय के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है। दरअसल, इसमें कुछ एसिड जैसे लिनोलिक एसिड, ओलिक एसिड, पॉलीमिक एसिड, स्टेरिक एसिड और एस्कॉर्बिक एसिड आदि पाए जाते हैं जो रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में बहुत प्रभावी होते हैं। वे धमनियों और नसों की इनर वाल्स में खराब एलडीएल कोलेस्ट्रॉल के स्तर को भी कम करते हैं। यही खराब एलडीएल कोलेस्ट्रॉल गंभीर हृदय संबंधी समस्याओं जैसे एथेरोस्क्लेरोसिस, दिल के दौरे और स्ट्रोक का काम करता है। इस प्रकार हृदय के लिए धनिया किसी औषधि से कम नहीं है।
नहीं होगी कमजोरी
इसमें मौजूद पोषक तत्व आपकी कमजोरी को दूर करने में भी काफी काम आते हैं। अगर आप हमेशा ही थके-थके महसूस करते हैं या फिर आपको चक्कर आते हैं तो धनिए के रस में मिश्री और थोड़ा पानी मिलाकर प्रतिदिन इसका सेवन करना चाहिए। आपको अपने भीतर एक चुस्ती व स्फूर्ति का आभास होगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY