सोलह बरस की मनु भाकर को स्वर्ण, हीना को रजत

गोल्ड कोस्ट। भारत की 16 बरस की मनु भाकर ने राष्ट्रमंडल खेलों की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में नये रिकार्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता जबकि हीना सिद्धू ने शानदार वापसी करते हुए रजत पदक अपने नाम किया। भाकर ने 240.9 का स्कोर करके राष्ट्रमंडल खेलों का रिकार्ड बनाया। दूसरे स्थान पर रही उनकी सीनियर हमवतन निशानेबाज हीना का स्कोर 234 था। कांस्य पदक आस्ट्रेलिया की एलेना गालियाबोविच को मिला जिसका स्कोर 214.9 था। आत्मविश्वास से ओतप्रोत भाकर ने अपने पहले राष्ट्रमंडल खेल में दोनों चरणों में दबदबा बनाये रखा।

भाकर स्वर्ण की प्रबल दावेदार मानी जा रही थी क्यांकि उसने मैक्सिको में इस साल आईएसएसएफ सीनियर विश्व कप में स्वर्ण पदक जीता था और उसके बाद सिडनी में जूनियर विश्व कप में भी पीला तमगा अपने नाम किया। सिद्धू एक बार बाहर होने की कगार पर थी लेकिन उसने शानदार वापसी करते हुए दूसरा स्थान हासिल किया। उसने दिल्ली में राष्ट्रमंडल खेल 2010 में भी रजत जीता था। इस स्पर्धा में भारत का दबदबा इतना था कि पहले दो पदक के लिये सिर्फ भाकर और सिद्धू ही दौड़ में बचे थे।

भाकर ने आठ महिलाओं के फाइनल में 14 बार दस या अधिक का स्कोर किया। सिद्धू विवादों के घेरे में इन खेलों में आई थी जब खेल मंत्रालय ने उनके पति और कोच रौनक पंडित को एक्रीडिटेशन देने से इनकार कर दिया था। सिद्धू की शुरूआत खराब रही और एक समय वह बाहर होने की कगार पर थी लेकिन उसने शानदार वापसी करके अपने आलोचकों को जवाब दिया ।लगातार नौ के स्कोर के बाद सिद्धू ने दस प्लस का स्कोर किया। भाकर शुरू ही से अपने प्रतिद्वंद्वियों से काफी आगे थी।

सिद्धू और एलेना जिस समय 195 अंक पर थे और चार शाट बाकी थे, तब भाकर का स्कोर 201.7 था। एलिमिनेशन के दूसरे चरण में भाकर ने 141.5 का स्कोर किया जबकि सिद्धू 134.9 अंक लेकर छठे स्थान पर थी। भाकर ने पहले चरण के आखिर में 101.5 स्कोर किया। वहीं भारत के रवि कुमार को 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में पुरूषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में कांस्य पदक।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY