जल संसद कार्यक्रम में जल संरक्षण पर दी गईं अहम जानकारियां

दमोह (हि.स.) । जिले के ग्राम बालाकोट में सोमवार को जल संसद का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एच.एस.मीणा ने कहा कि जल संरक्षण पर चिंतन जरूरी है। जल संरक्षण आज की महती आवश्यकता है। हम सबको जल संरक्षण की दिशा में कृत संकल्पित होकर काम करना होगा।

मीणा ने कहा कि सान भाई खेतों में खेत तालाब योजना तहत तालाब बनवायें। इससे जहां एक ओर खेत में पानी जमा होगा जो सिंचाई के काम भी आयेगा, वहीं वाटर लेवल में वृद्धि होगी और किसान भाई इसमें मछली पालन कर अतिरिक्त आय का जरिया भी मिल जायेगा। उन्होंने पेड़-पौधे लगाने का आव्हान किया। श्री मीणा ने कहा फलदार पेड़ लगायें, सरकार अनुदान सहायता भी देती है। उन्होंने जल संरक्षण की दिशा में कराये जा रहे कार्यो की जानकारी भी दी।
लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के इंजीनियर सरवैया ने कहा आज के समय की मांग जल सहेजने की है। उन्होंने जल संरक्षण पर विस्तार से अपनी बात रखी। सीईओ जनपद दमोह श्री मालवीय और जिले के नोडल अधिकारी जलाभिषेक संजय अहिरवार ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम में सरपंच मूंगाबाई सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

कार्यक्रम का संचालन और जल संसद पर जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक तेजसिंह केशवाल ने विस्तार से आयोजन जानकारी दी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY