आस्ट्रेलिया में खिलाड़ियों के आचरण में सुधार के लिये ‘नैतिकता गुरु’ की नियुक्ति

सिडनी। क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने क्रिकेट को झकझोर देने वाले धोखेबाजी प्रकरण के मद्देनजर खेल संस्कृति की समीक्षा के लिये नैतिकता गुरू की नियुक्ति की। क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने कहा कि वह सुनिश्चित करना चाहता है कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मार्च में तीसरे टेस्ट के दौरान हुई घटना की पुनरावृत्ति ना हो जिसने आस्ट्रेलियाई क्रिकेट की साख धूमिल की थी। क्रिकेट आस्ट्रेलिया के प्रमुख डेविड पीवेर ने कहा ,‘‘ हम दर्शकों की निराशा समझ सकते हैं । बोर्ड पूरे प्रयास कर रहा है कि इस तरह की घटना फिर नहीं होने पाये।’’

केपटाउन में तीसरे टेस्ट के दौरान कप्तान स्टीव स्मिथ, उपकप्तान डेविड वार्नर और बल्लेबाज कैमरन बेनक्राफ्ट को गेंद से छेड़खानी के आरोप में प्रतिबंध झेलना पड़ा। क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने सिमोन लोंगस्टाफ की नियुक्ति की है जो सिडनी स्थित गैर लाभार्थ संगठन द एथिक्स सेंटर के प्रमुख है। वह मौजूदा और पूर्व खिलाड़ियों, प्रशासकों, मीडिया और प्रायोजकों से बात करके सुझाव देंगे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY