डाबर 2018-19 में क्षमता विस्तार में 250 से 300 करोड़ रुपये करेगी निवेश

मुंबई। तेल, साबुन, शैंपू जैसे दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनी डाबर इंडिया चालू वित्त वर्ष में क्षमता विस्तार पर 250 से 300 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। साथ ही कंपनी घरेलू बाजार में अधिग्रहण पर गौर कर रही है। डाबर इंडिया के मुख्य वित्त अधिकारी ललित मलिक ने कंपनी के मार्च तिमाही के नतीजे की घोषणा के बाद निवेशकों को कांफ्रेन्स काल में कहा, ‘‘हम इस साल पुरानी इकाइयों का क्षमता विस्तार करने जा रहे हैं। हम चालू वित्त वर्ष 2018-19 में करीब 250 से 300 करोड़ रुपये का पूंजी व्यय करेंगे।’’ डाबर इंडिया के मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील दुग्गल ने कहा कि कंपनी ने दक्षिण अफ्रीका में कुछ अधिग्रहण किये हैं। कंपनी घरेलू बाजार में भी बड़े पैमाने पर अधिग्रहण की योजना पर गौर कर रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘… हमारी कुछ लक्ष्यों पर अब भी नजर है लेकिन अभी कुछ ठोस नहीं है। विलय एवं अधिग्रहण को लेकर हमारा नजरिया बना हुआ है…।’’ डाबर इंडिया ने पिछले महीने अपनी अनुषंगी इकाई के जरिये दक्षिण अफ्रीका में दो कंपनियों डी एंड ए कास्मेटिक प्रोपराइटरी और अटलांटा बाडी एंड हेल्थ प्रोडक्ट्स प्रोपराइटरी का अधिग्रहण पूरा किया। कंपनी को मार्च तिमाही में 397.18 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ जो एक साल पहले इसी तिमाही में 333.65 करोड़ रुपये के मुकाबले 19.04 प्रतिशत अधिक है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY