दलित विधायक जिग्नेश मेवाणी को मिली जान से मारने की धमकी

अहमदाबाद। दलित नेता एवं गुजरात से विधायक जिग्नेश मेवानी ने आरोप लगाया कि एक शख्स ने उन्हें गोली मारने की धमकी दी। दोपहर के वक्त एक मोबाइल फोन पर मेवानी के सहयोगी कौशिक परमार को यह धमकी मिली। परमार ने इस सिलसिले में बनासकांठा जिले के वडगाम में शिकायत दर्ज कराई है। मेवानी वडगाम विधानसभा सीट से ही विधायक हैं।

पुलिस सब-इंस्पेक्टर आर पी जाला ने कहा, ‘वडगाम में मेवानी का दफ्तर परमार ही संभालता है। उसकी शिकायत के आधार पर हमने कॉल करने वाले के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। कॉल करने वाले की पहचान राजवीर मिश्रा के तौर पर हुई है।’ जाला ने कहा कि मिश्रा ने कथित तौर पर परमार को फोन किया और मेवानी को गोली मारने की धमकी दी।

आईपीसी की धारा 507 के तहत केस दर्ज किया गया है। बाद में मेवानी ने ट्वीट किया, ‘मेरे सहकर्मी कौशिक परमार (जिनके पास इन दिनों मेरा नंबर है) ने अभी मुझे बताया है – कोई राजवीर मिश्रा का फोन था और बोला कि तुम अगर जिग्नेश मेवानी हो तो तुम्हें गोली मार दूंगा।’ मेवानी ने यह आरोप भी लगाया कि फेसबुक और ट्विटर पर उन्हें पहले भी ऐसी धमकियां मिलने के बावजूद गुजरात पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

स्थानीय संगठन राष्ट्रीय दलित अधिकार मंच ने घोषणा की कि दलित कार्यकर्ता कल गांधीनगर में राज्य के डीजीपी से मुलाकात कर मेवानी को ‘वाई’ श्रेणी की सुरक्षा दिए जाने की मांग करेंगे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY