चौथी तिमाही में निजी क्षेत्र की सूचीबद्ध कंपनियों ने की उल्लेखनीय वृद्धि

मुंबई। बीते वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में भारत के विनिर्माण क्षेत्र ने बिक्री में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की और साथ ही उनके परिचालन लाभ में भी सालाना आधार पर सुधार हुआ। भारतीय रिजर्व बैंक के निजी क्षेत्र की सूचीबद्ध गैर वित्तीय कंपनियों के विश्लेषण में यह तथ्य सामने आया है। केंद्रीय बैंक ने बिक्री प्रदर्शन पर कहा कि प्रमुख विनिर्माण उद्योगों में इलेक्ट्रिकल मशीनरी और उपकरण , मोटर वाहनों और अन्य परिवहन उपकरणों , पेट्रोलियम उत्पादों और फार्मास्युटिकल्स तथा दवाई आदि क्षेत्रों की मांग में इजाफा हुआ। ’

वित्त वर्ष 2017-18 की चौथी तिमाही में कंपनियों की बिक्री 9.25 लाख करोड़ रुपये रही , जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 8.41 लाख करोड़ रुपये रही थी। यह विश्लेषण 2,723 गैर सरकारी गैर वित्तीय सूचीबद्ध कंपनियों के जनवरी – मार्च , 2017-18 के वित्तीय नतीजों पर आधारित है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY