राष्ट्रपति कोविंद की ‘भविष्यवाणी’, 2025 तक नई उड़ान भरने को तैयार भारत

नयी दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था तेज वृद्धि के लिए तैयार है और देश का का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) 2025 तक दोगुना होकर 5,000 अरब डॉलर के आंकड़े को छू लेने की संभावना है।

वह यहां भारतीय सनदी लेखाकार संस्थान (आईसीएआई) के प्लेटिनम जुबली समारोह को संबोधित कर रहे थे। कोविंद ने कहा, अगले दशक में भारतीय अर्थव्यवस्था नयी उड़ान भरने को तैयार है और 2025 तक देश की जीडीपी का आकार दोगुना होकर पांच हजार अरब डॉलर होने की उम्मीद है। कोविंद ने चार्टड अकाउंटेंटों को जनहित का प्रहरी बताया।

उन्होंने कहा कि देश की कर प्रणाली और कर दाताओं को सूविधा देने में चार्टड अकाउंटेंटों की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्होंने निष्पक्ष कर प्रणाली के अनुपालन पर जोर देते हुए कहा कि इसका आशय सरकार को राजस्व देने से कहीं अधिक है। कारपोरेट मामलों के राज्य मंत्री पी. पी. चौधरी भी इस माकै पर मौजूद थे। उन्होंने कहा कि सरकार की काले धन के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी और इस क्रम में अब तक 2.25 लाख संदिग्ध मुखौटा कंपनियों की पहचान की गई है। दूरसंचार राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने भी इस अवसर पर अपनी बात रखी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY