जिन पर कर बकाया उन्‍हें नहीं मिलेंगी मूलभूत सुविधाएं

भोपाल। एक ओर जहां भोपाल नगर निगम की वित्तीय हालत खस्ता है, वहीं दूसरी ओर वह बकाएदारों से टैक्स की वसूली नहीं कर पा रहा है। अब निगम ने इसका तरीका निकाला है। नगर निगम ने फैसला किया है कि जिन लोगों पर कर बकाया है, उन्हें भविष्य में मूलभूत सुविधाएं नहीं दी जाएंगी। इस फैसले को लागू कर दिया गया है। निगम ने इसकी शुरुआत पानी के कनेक्शन से की है।
निगम कमिश्नर अनिवाश लवानियां ने आदेश जारी कर कहा कि ऐसे लोगों को पानी के कनेक्शन न दिए जाएं जिन पर सम्पत्तिकर और ठोस अपशिष्ट प्रबंधन उपभोक्ता भार बकाया हो। ऐसे लोगों के आवेदन पहली नजर में ही खारिज कर दिए जाएंगे, जिनके साथ सम्पत्ति कर जमा करने की रसीद नहीं लगी होगी।

नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि भोपाल में करीब डेढ़ लाख लोगों पर करीब 40 करोड़ रुपये वॉटर और 350 करोड़ रुपये प्रॉपर्टी टैक्स का बकाया है। इसमें से बड़े बकायादारों से निगम को करीब 300 करोड़ रुपये और छोटे बकायादारों से निगम को 50 करोड़ की वसूली करनी है। ये पैसा अगर निगम को मिल जाए तो निगम का खजाना भर जाएगा और फिर विकास कार्यों के लिए किसी का मुंह नहीं ताकना पड़ेगा। इतना ही नहीं, होर्डिंग संचालकों से विज्ञापन कर की बकाया राशि 157 करोड़ रुपये पहुंच चुकी है, लेकिन निगम इनसे भी वसूली नहीं कर पाया है। निगम पर यह आरोप भी लगता है कि वह छोटे बकाएदारों पर तो सख्ती करता है, लेकिन बड़े बकाएदारों के मामले पर चुप्पी साध जाता है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY