देहरादून में हुई झमाझम बारिश, टिहरी में भूस्खलन

देहरादून । राजधानी देहरादून में मंगलवार सुबह झमाझम बारिश हुई। सड़कों-गलियों में जगह-जगह जलजमाव हो गया। सुबह के समय बारिश होने से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। सुबह लगभग 05:30 बजे से लेकर 11 बजे तक राजधानी में बारिश हुई। देहरादून 65.40 मिमी तथा ऋषिकेश 29.40 मिमी वर्षा रिकार्ड की गई। जिले में में 11 ग्रामीण मार्ग अवरूद्ध है। जिन्हें सुचारू करने की कार्रवाई की जा रही है। वहीं मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में प्रदेश के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की चेतावनी दी है।

राज्य आपातकालीन परिचालन केन्द्र के अनुसार, टिहरी जिले में मंगलवार सुबह लगभग 8ः00 बजे तहसील घनशाली के अन्तर्गत ग्राम गौजियाना राजस्व क्षेत्र पौखाल में भूस्खलन होने से एक टिन शेड की गोशाला पूर्ण क्षतिग्रस्त हो गई जिसमें एक भैंस की मृत्यु हुई है। एक शौचालय पूर्ण क्षतिग्रस्त होने की सूचना है। किसी प्रकार की जनहानि की सूचना नहीं है। जिले में कुल दो ग्रामीण तथा एक राज्य मार्ग अवरूद्ध हैं।

उत्तरकाशी जिले में सोमवार शाम को ग्राम सांकरी में एक गोशाला तथा एक रसोई क्षतिग्रस्त हो गई है। चमोली जिले में 14 ग्रामीण मोटर मार्ग अवरूद्ध हैं। ऋषिकेश-बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग बद्रीनाथ तक छोटे-बड़े वाहनों के लिए यातायात के लिए खुला है। पौड़ी जनपद में 15 ग्रामीण मोटर मार्ग अवरूद्ध हैं, जिन्हें सुचारू करने की कार्रवाई की जा रही है।
हरिद्वार जिले में गंगा नदी का जलस्तर प्रातः 8ः00 बजे तक 291.60 मी. मापी गई जबकि खतरे का स्तर- 294.00 मी. है। जनपद में कुल पांच ग्रामीण,एक राज्य मार्ग तथा एक जिला मार्ग अवरूद्ध हैं। जिन्हें खोले जाने का कार्य किया जा रहा है। अल्मोड़ा जनपद में एक गा्रमीण मार्ग अवरूद्ध है। बागेश्वर जनपद में छह ग्रामीण मोटर मार्ग अवरूद्ध है जिन्हें सुचारू करने की कार्रवाई की जा रही है।

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में प्रदेश में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया की प्रदेश में कही-कहीं विशेषकर कुमाउं क्षेत्र में भारी बारिश की संभावना हैै। भारी बारिश को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY