पीएम मोदी ने कहा, बोहरा समाज एकता और समर्पण की मिसाल है

इंदौर। प्रधानमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ऐसे पहले पीएम हैं, जो किसी सैयदना की वाअज में शामिल हुए। इंदौर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बोहरा समाजजनों को संबोधित करते हुए कहा कि बोहरा समाज एकता और समर्पण की मिसाल है। उन्होंने कहा कि इमाम हुसैन के पवित्र संदेश को आपने अपने जीवन में उतारा है और दुनिया तक उनका पैगाम पहुंचाया है। इमाम हुसैन अमन और इंसाफ के लिए शहीद हो गए थे।
उन्होंने अन्याय, अहंकार के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद की थी। उनकी ये सीख जितनी तब महत्वपूर्ण थी उससे अधिक आज की दुनिया के लिए ये अहम है। हम पूरे विश्व को एक परिवार मानने वाले, सबको साथ लेकर चलने की परंपरा का मानने वाले लोग हैं। हमारे समाज की, हमारी विरासत की, यही शक्ति है जो हमें दुनिया के दूसरे देशों से अलग करती है। इसके पूर्व कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच सैफी नगर मस्जिद में पहुंचे पीएम मोदी ने धर्मगुरु सैयदना से मुलाकात की। सैयदना साहब ने उनका स्वागत किया। पीएम ने सैयदना के साथ मरसिये नोहा इमाम हुसैन के पढ़ा।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि अशरा मुबारक के इस पवित्र अवसर पर भी आपने मुझे यहां आने का मौका दिया, इसके लिए बहुत आभार। मुझे खुशी है कि बोहरा समाज पूरे विश्व को भारत की वसुदैव कुटुंबकम की ताकत बता रहा है। मैं दुनिया में जहां भी जाता हूं, शांति और विकास के लिए हमारे समाज का जो योगदान है उसकी बातें में बताता हूं। शांति, सद्भावना, सत्याग्रह और राष्ट्रभक्ति के प्रति बोहरा समाज की भूमिका हमेशा अहम रही है। अपने देश से अपनी मातृभूमि के प्रति प्रेम की सीख सैयदना साहब देते रहे हैं।

बोहरा समाज ने कदक-कदम पर साथ दिया
प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें अपने अतीत पर गर्व है, वर्तमान पर विश्वास है और उज्जवल भविष्य का आत्मविश्वास है। बोहरा समाज के साथ मेरा भी रिश्ता बहुत ही पुराना है। मेरा सौभाग्य है कि आपका स्नेह मुझ पर हमेशा रहा। गुजरात का शायद ही कोई गांव हो जहां बोहरा व्यापारी नहीं मिलता हो। मैं जब मुख्यमंत्री था तब कदम-कदम पर बोहरा समाज ने साथ दिया। आपका यही अपनापन मुझे आज यहां खींच लाया है।

इस कार्यक्रम से लें सबक
प्रधानमंत्री ने कहा कि सैयदना ने कहा कि स्वच्छता दिल की और मन की भी करनी है। इस आयोजन को भी स्वच्छता से जोड़ा गया है, इस पूरे कार्यक्रम को प्लास्टिक फ्री बनाया गया है। इसमें से निकलने वाले कचरे को रिसाइकल कर खाद बनाया जा रहा है। जिसे किसानों को मुफ्त में बांटा जाएगा। मेरा देश के सभी स्वच्छाग्रहियों से आग्रह है कि इस कार्यक्रम से सबक लेकर ही काम करें।

सैयदना ने की शिवराज की तारीफ
इस अवसर पर सैयदना साहब ने कहा कि यहां हम अपने वतन हिंदुस्तान में सुकून में हैं। यहां गुजरात, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और राजस्थान में हमारे धर्मस्थल अनमोल मोती की तरह है। सैयदना साहब ने समाजजनों को भाईचारे का संदेश दिया और कहा कि देश की तरस्की में योगदान दें। इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराजसिंह की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने मेजबान और मेहमान के रूप में भूमिका निभाई।

उन्होंने प्रधानमंत्री को स्वच्छता अभियान और मेक इन इंडिया के लिए शुभकामनाएं दी। सैयदना ने कहा कि हिंदुस्तान तरक्की करे और तरक्की और प्रेम का ये पैगाम पूरी दुनिया में जाए। सैयदना ने कहा कि खुदा आपको हमेशा खुश रखे। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने पिता के संबंधों की याद दिलाई। उन्होंने कहा कि सभी मजहब प्रेम करना सिखाते हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY