बारिश थमते ही धान में कीट का प्रकोप

जगदलपुर। धान का कटोरा कहा जाने वाला छत्‍तीसगढ़ में इस बार बारिश कम होते ही धान की फसल में कीट प्रकोप का संक्रमण देखा जा रहा है। लिफ फोल्डर के प्रकोप से बचने के लिए कृषि विभाग के अधिकारी एवं वैज्ञानिकों की सलाह पर कीट नाशकों का छिडक़ाव कर इससे बचा जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि बारिश के बाद शुष्क मौसम से धान की फसल में कीट प्रकोप के संक्रमण का खतरा बड़ जाता है। इन दिनों धान की फसल में लिफ फोल्डर कीट प्रकोप का संक्रमण देखा जा रहा है। इस कीट प्रकोप के संक्रमण से धान के पौधें की पत्तियों को नुकसान पहुंचता है जिससे उपज प्रभावित होती है। लिफ फोल्डर संक्रमण से बचने के लिए कृषि विभाग के अधिकारियों एवं कृषि वैज्ञानिकों द्वारा किसानों को उचित कीट नाशकों के प्रयोग से इसके रोक-थाम की सलाह दी जा रही है।
कृषि वैज्ञानिक डॉ. आदिकांत प्रधान के अनुसार धान की फसल में लिफ फोल्डर कीट प्रकोप के संक्रमण देखे जा रहे हैं जिससे धान के पौधें की पत्तियां खराब होती है जिसे किसान कीट नाशक का छिडक़ाव कर अपने फसल का बचाव कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों को वैज्ञानिकों के द्वारा उचित सलाह दिए जाने का प्रयास किया जा रहा है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY