नेपा मिल को नया जीवन, केन्द्र सरकार ने आधुनिकीकरण के लिए दिए करोड़ो रूपए

भोपाल। आर्थिक मामलों की केंद्रीय कैबिनेट समिति ने प्रदेश के नेपानगर में स्थित नेपा मिल्स के आधुनिकीकरण एवं अन्य योजनाओं के लिए वित्तीय सहयोग को मंजूरी दे दी है। इससे जहां मिल के आधुनिकीकरण की परियोजना को गति मिलेगी, वहीं कर्मचारियों को उनकी बकाया राशि का भुगतान भी किया जा सकेगा।
क्षेत्रीय सांसद एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्री नंदकुमार सिंह चौहान ने समिति के इस निर्णय के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी एवं केंद्रीय वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली का आभार जताया है। आर्थिक मामलों की कैबिनेट समिति की बैठक बुधवार को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई। इस बैठक में अन्य निर्णयों के अलावा प्रदेश के बुरहानपुर जिले में स्थित नेपा मिल्स के रिवाइवल एंड मिल डेवलपमेंट प्लान एवं अन्य योजनाओं के लिए 469.41 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी है। मिल के आधुनिकीकरण के बाद उसकी उत्पादन क्षमता 83 हजार मीट्रिक टन से बढ़कर 1 लाख मीट्रिक टन हो जाएगी। इसके साथ ही उत्पाद की गुणवत्ता में भी सुधार आएगा। वेतन, मजदूरी इत्यादि के भुगतान के लिए 1,01.58 करोड़ रुपये के ऋण की भी मंजूरी दी गई है। इससे नेपा लिमिटेड के कर्मचारियों की कठिनाइयों को कम किया जा सकेगा। इसके अलावा कंपनी के 400 कर्मचारियों की स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना के लिए 90.83 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की गई है।
समिति के इस निर्णय को विकास को बढ़ावा देने वाला बताते हुए सांसद श्री नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा है कि इससे जनजातीय क्षेत्र में स्थित इस मिल में रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे, वहीं वर्तमान एवं पूर्व कर्मचारियों को भी परेशानी से राहत मिलेगी। गौरतलब है कि नेपा मिल्स लिमिटेड सार्वजनिक क्षेत्र की न्यूजप्रिंट कंपनी है, जिसकी स्थापना 1947 में की गई थी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY