15 साल के सौरभ चौधरी ने युवा ओलंपिक में जीता स्वर्ण पदक

ब्यूनसआयर्स। सौरभ चौधरी ने युवा ओलंपिक खेलों में बुधवार को यहां पुरूषों की दस मीटर एयर पिस्टल में स्वर्ण पदक जीता जिससे भारतीय निशानेबाजी टीम इस प्रतियोगिता में अब तक का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ अपने अभियान का अंत किया। सोलह वर्षीय चौधरी ने 244.2 अंक बनाये और वह दक्षिण कोरिया के सुंग युन्हो (236.7) से आगे रहे। स्विट्जरलैंड के सोलारी जैसन ने 215.6 अंक बनाकर कांस्य पदक जीता।

भारतीय खिलाड़ी ने आठ निशानेबाजों के बीच चले फाइनल में दस और इससे अधिक के 18 स्कोर बनाये। एशियाई खेल और जूनियर आईएसएसएफ विश्व चैंपियनशिप के स्वर्ण पदक विजेता चौधरी क्वालीफाईंग में 580 अंक लेकर शीर्ष पर रहे थे। चौधरी से पहले कल 16 वर्षीय मनु भाकर ने महिलाओं की पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था।

शुरू में दस से कम के चार स्कोर बनाने के बावजूद चौधरी ने बढ़त कायम रखी तथा 10.7, 10.4, 10.4 और 10.0 के स्कोर के साथ अपना दबदबा बनाया। इस बीच उन्हें जैसन और युन्हो से चुनौती भी मिली। पहले जैसन आगे थे लेकिन युन्हो ने उन्हें पीछे छोड़ दिया। भारतीय निशानेबाज ने हालांकि इस बीच अपनी बढ़त बरकरार रखी थी।

चार दिन में यह चौथी बार हुआ है जबकि भारत का कोई निशानेबाज पोडियम तक पहुंचा। चौधरी और मनु भाकर ने स्वर्ण पदक जीते जबकि शानु माने और मेहुली घोष रजत पदक जीतने में सफल रहे। चौधरी ने पिछले महीने 52वीं आईएसएसएफ विश्व निशानेबाजी चैंपियनशिप में एयर पिस्टल जूनियर पुरूष वर्ग में नये विश्व रिकार्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता था। इसके बाद वह एशियाई खेलों के इतिहास में स्वर्ण पदक जीतने वाले पांचवें भारतीय निशानेबाज बने थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY