ऑकलैंड के 3 सबसे बेहतरीन डाइनिंग डेस्टिनेशंस के अग्रणी, शेफ सिड सहरावत ने भारत का दौरा किया

मुंबई : न्‍यूजीलैंड के प्रमुख शेफ एंड रेस्‍टोरेटर, सिड सहरावत और उनकी पत्‍नी चांद सहरावत जो कि न्‍यूजीलैंड में अपने तीन पुरस्‍कार प्राप्‍त रेस्‍टोरेंट्स- सिडआर्ट, कैसिया और सिड के साथ एक धरोहर का निर्माण कर रहे हैं, फिलहाल भारत में हैं।

शेफ और रेस्‍टोरेटर सिड सहरावत अपने फाइन डाइनिंग रेस्‍टोरेंट में

मोहाली में छोटे से कस्‍बे के रहने वाले सिड ने यादविंद्र पब्लिक स्‍कूल से पढ़ाई की। चंडीगढ़ शहर लौटने पर उन्‍होंने कहा कि “उन्‍हें यहां आकर अपने दोस्‍तों, क्रिकेट और बड़े होने की यादें ताजा हो गईं। सहरावत ने कहा, “मुझे एक चीज जो सबसे ज्‍यादा याद है वह है मेरी दादी का नाश्‍ते में पराठा बनाना और मेरे दादाजी द्वारा मुझे गणित पढ़ाया जाना। मेरे पिता भारतीय नौसेना में थे, इसलिए मैंने काफी अनुशासन सीखा जिसकी जरूरत मुझे उनके साथ तीन किचन चलाने के लिए थी। भारतीय खाने के प्रति मेरा प्‍यार भारत में पलने-बढ़ने और मेरे डैड की पोस्टिंग्‍स अलग-अलग जगह होने से जागा।”

सिड सहरावत ने बेस्‍ट शेफ का खिताब जीता और अपनी पत्‍नी चांद के साथ उन्‍होंने मेट्रो प्‍यूजॉट रेस्‍टोरेंट ऑफ द ईयर 2018 अवार्ड्स में बेस्‍ट रेस्‍टोरेटर्स भी जीता। सिडआर्ट और कैसिया इन अवार्ड्स में रेस्‍टोरेंट ऑफ द ईयर की सूची में पहले और दूसरे स्‍थान पर रहे। सिडआर्ट को इस साल 2 हैट्स का पुरस्‍कार मिला। कैसिया ने क्विजीन गुड फूड अवार्ड्स 2018 में बेस्‍ट मेट्रोपॉलिटन रेस्‍टोरेंट भी जीता। इसके अतिरिक्‍त, सिड फ्रेंच कैफे में और सिडआर्ट न्‍यूजीलैंड में सबसे अधिक रेटिंग वाले रेस्‍टोरेंट्स हैं जिन्‍हें दुनिया के शीर्ष500 बेस्‍ट रेस्‍टोरेंट की सूची में शुमार किया गया है।

न्‍यूजीलैंड में अपने समय को याद करते हुये सिड ने कहा, “न्‍यूजीलैंड में मुझे एक ही बाधा का सामना करना पड़ा, वह था भारतीय भोजन को लेकर लोगों की धारणा को बदलना। अधिकतर कीवीज भारतीय क्विजीन को बटर चिकन से जोड़कर देखते हैं जो हलका मीठा और क्रीमी होता है। लेकिन आज, दो सफलतम भारतीय रेस्‍टोरेंट्स, कैसिया द मॉडर्न इंडियन और सिडआर्ट प्रोग्रेसिव इंडियन के साथ, कई कीवीज उस धारणा से अलग जाकर भारतीय भोजन के साथ खूब एक्‍सपेरिमेंट कर रहे हैं। दोनों रेस्‍टोरेंट्स न्‍यूजीलैंड में उगने वाली चीजों को सबसे बेहतरीन समसामयिक भारतीय फॉर्मेट दिखाते हैं जोकि अधिक औपचारिक और क्विजीन का सटीक कार्यान्‍वयन हैं।”

उनके रेस्‍टोरेंट्स का उद्भव शेफ के तौर पर उनकी पहचान को दर्शाता है। वे अपनी भारतीय जड़ों को न्‍यूजीलैंड के भूख बढ़ाने वाले फ्‍लेवर्स के साथ खूबसूरती से बांधते हैं।

सिड और चांद ज्‍यादातर अपने काम में बिजी रहते हैं लेकिन वे छुट्टियां बिताने का भी समय निकाल लेते हैं। “मैं दोस्‍तों एवं परिवारवालों को वाइहेके आइलैंड ले जाना पसंद करता हूं। यह ऑकलैंड से छोटी सी फेरी राइड है जहां आप बीच और वाइनयार्ड्स को एक्‍सप्‍लोर कर सकते हैं। बे ऑफ आइलैंड में पैहिया की मेरे दिल में खास जगह है क्‍योंकि मैंने वहां यंग शेफ के तौर पर कुछ महीने काम किया था, नॉर्थलैंड की खूबसूरती अद्भुत और असाधारण है। रोटोरुआ न सिर्फ थर्मल पूल्‍स एक्‍स्‍प्‍लोर करने का शानदार स्‍थान है बल्कि यहां माओरी गांव में पारंपरिक हांगी का भी आनंद उठाया जा सकता है और क्‍वींसटाउन भी पहाड़ों और झीलों के अपने अनुपम दृश्‍यों के लिए जाना जाता है।”

सिड ने कहा कि अपनी यात्रा में आने वाले उतार-चढ़ाव के दौरान उनकी ताकत का प्रमुख स्‍तंभ उनकी पत्‍नी चांद सहरावत हैं। वह खाने को लेकर सिड के पैशन को साझा करती हैं और इंडस्‍ट्री को बहुत अच्‍छे से अपनाया है। बिजनेस में उनके परिवार की पृष्‍ठभूमि से उन्‍हें साथ मिलकर प्रमुख फैसले लेने में मदद मिलती है।

सिड के रेस्‍टोरेंट सफलता की बु‍लंदियों पर हैं और जुनून, प्रतिभा एवं कड़ी मेहनत के संयोजन का स्‍पष्‍ट प्रमाण है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY