मकर संक्रांति पर धार्मिक सरोवरों में लगा श्रद्धालुओं का तांता

शिमला । प्रदेशभर में सोमवार को मकर संक्रांति का पर्व आस्था और उत्साह के साथ मनाया जा रहा है। प्रदेश के विभिन्न धार्मिक सरोवरों में सुबह से ही श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। बड़ी तादाद में पहुंचे श्रद्धालु तुलादान सहित अन्य दान भी कर रहे हैं।
शिमला व मंडी जिला की सीमा पर स्थित तत्तापानी में कड़ाके की ठंड के बीच सुबह से ही हजारों की संख्या में श्रद्धालु स्नान कर दान कर रहे हैं| हर साल मकर संक्रांति पर बड़ी संख्या में पवित्र स्नान करने श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं। इसी तरह बिलासपुर जिले में महर्षि मारकंडेय की तपोस्थली मारकंडेय तीर्थ में भी प्रदेश के कोने-कोने से पहुंचकर श्रद्धालुओं ने ब्रह्म मुहूर्त में स्नान किया। कई श्रद्धालु रविवार रात को ही यहां पर पहुंच गए थे।
मान्यता है कि यहां स्नान करने से कष्टों का निवारण होता है। बिलासपुर के ही गेहडवीं के रुक्मणि कुंड में भी मकर संक्रांति पर सैकड़ों श्रद्धालु स्नान कर रहे हैं। स्नान करने वालों की भीड़ अधिकतर सुबह ब्रह्म मुहूर्त में रही। कांगड़ा जिले में देहरा के समीप ब्यास नदी के बाएं तट पर कालेश्वर मंदिर में भी श्रद्धालु स्नान के लिए उमड़े हुए हैं।
ग्रामीण क्षेत्रों में इस पर्व पर विशेष रूप से खिचड़ी बनाने का प्रचलन आज भी कायम है। इस बीच शिमला सहित राज्य के विभिन्न मंदिरों में सुबह से श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। इस मौके पर राज्यपाल आचार्य देवव्रत, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री व अन्य नेताओं ने लोगों को शुभकामनाएं दी हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY