15 लाख की ठगी के मामले में सोसायटी के डायरेक्टर व मैनेजर गिरफ्तार


सिंगरौली । जिले के वैढ़न, बरगवां व चितरंगी क्षेत्र के आधा सैकड़ा लोगों को कम समय में डबल करने का सब्जोबाग दिखा 15 लाख रुपये की हेरा फेरी करने वाले रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी के डायरेक्टर व ब्रांच मैनेजर को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया है।
मामले का खुलासा करते हुए मंगलवार को पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल ने बताया कि बिलौजी स्थित रिलायबल क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी में गत 2014 में फरियादी लालपति साकेत पुत्र भुआली निवासी बड़ोखर व उसके परिवार का कुल 2 लाख 85 हजार 520 रुपये , ग्राम बरैया निवासी से 10 हजार व चितरंगी निवासी बृजमोहन सिंह का 77 हजार 843 रुपये सहित आधा सैकड़ा लोगों का कम समय में दोगुनी रकम देने का सब्जोबाग दिखा कर रिलायबल सोसायटी के डायरेक्टर अरविंद त्रिपाठी उम्र 37 वर्ष निवासी चुआ थाना गोविंदगढ़ रीवा व ब्रांच मैनेजर जय प्रकाश साहू उम्र 32 वर्ष निवासी दुधिचुआ जयंत द्वारा निवेश करा कर मैच्युरिटी बांड के साथ मैच्युरिटी रकम का चेक भी दिया गया था, जो निर्धारित तिथि में बाउंस हो गया।
एसपी ने बताया कि चेक बाउंस होने के अपने आप को ठगा महसूस कर फरियादियों ने बरगवां व कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराया जिसके बाद टीआई मनीष त्रिपाठी के नेतृत्व में कोतवाली पुलिस ने चार वर्ष से जिले वासियों को ठग रहे फर्जी सोसायटी के उक्त डायरेक्टर व ब्रांच मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया गया। एसपी इकबाल के अनुसार वैढ़न, बरगवां व चितरंगी क्षेत्र के तकरीबन आधा सैकड़ा ग्रामीणो से 15 लाख रुपये की ठगी हुई है। दोनों के खिलाफ धारा 420 ,406, 34 के तहत कार्यवाही कर जेल भेज दिया गया।
एस पी इकबाल ने बताया कि फर्जी चिट फण्ड व सोसायटी बना कर आम जनों को ठगने वाली सोसायटी के खिलाफ शिकायत मिलने पर कार्यवाही हर हाल में होगी। बताया कि गिरफ्तार डायरेक्टर व मैनेजर बिलौजी ऑफिस बंद कर फरार चल रहे थे जो पुलिस के हत्थे चढ़ गए। रिलायबल क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसायटी का रीवा व सतना में ऑफिस होने की जानकारी मिली है। जिसके रिकार्डो को खंगालने उक्त जिले की पुलिस से जानकारी ली जा रही है।
इधर अब रिलायबल सोसायटी के खिलाफ कार्यवाही होने के बाद वैढ़न -विन्ध्यनगर मार्ग पर ग्राम ढोटी स्थित लोकहित क्रेडिट को -ऑपरेटिव सोसायटी के खिलाफ भी कार्यवाही की मांग उठने लगी है। इस सोसायटी के इन्वेस्टर को भी मैच्युरिटी नहीं दी जा रही है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY