अगले 10 साल में दुनिया की तीसरी महाशक्ति बन जायेगा भारत : राजनाथ

पटना, (हि.स.)। भारत के मन की बात कार्यक्रम से लोगों को जोड़ने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को पटना में यहां के प्रबुद्ध लोगों से अपील करते हुये कहा अब वक्त आ गया है कि देश में राजनीति के सही अर्थ को स्थापित किया जाये। इस दौरान उन्होंने राजनीति को परिभाषित करते हुये कहा कि राजनीति भगवान राम के हाथ में आती है तो भक्ति बन जाती है, जब भगवान श्रीकृष्ण के हाथ में आती है तो युक्ति बन जाती है, जब सुभाषचंद्र बोस और महात्मा गांधी के हाथ में आती है तो शक्ति बन जाती है, खुदी राम बोस और भगत सिंह जैसे क्रांतिकारियों के हाथ में जाती है तो मुक्ति बन जाती है और आजादी के बाद कुछ लोगों के हाथों में आकर संपत्ति बन जाती है।

उन्होंने कहा कि राजनीति का सही अर्थ है एक ऐसी राज व्यवस्था की स्थापना करना जो समाज को सन्मार्ग की ओर ले जाये। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यही काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र पूरी मजबूती के साथ देश का निर्माण कर रहे हैं। यदि कोई उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाता है तो यह सरासर गलत है। बिना किसी का नाम लिये राजनाथ सिंह ने कहा कि लोगों के आंखों में धूल झोंकने की राजनीति ज्यादा दिनों तक नहीं चल सकती है। आज राजनीतिक में विश्वसनीयता का संकट पैदा हो गया है। हमलोगों ने इस संकट को चुनौती के रूप में लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सबका साथ-सबका विकास के लक्ष्य के तहत समाज के सभी वर्गों का विकास किया जा रहा है। इसके लिए कई कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं।

उन्होंने कहा कि आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय रंगमंच पर भारत एक महाशक्ति के तौर पर उभर रहा है। जिस रफ्तार से भारत आगे बढ़ रहा है उसे देखते हुये कहा जा सकता है कि आने वाले 10 वर्षों में यह दुनिया की तीन बड़ी शक्तियों में शामिल हो जायेगा। अमेरिका, रुस और चीन में से किसी एक की जगह भारत लेगा। उन्होंने कहा कि लेकिन भारत किसी को डराने वाले देश साबित नहीं होगा। यह विश्व गुरु बनेगा जिससे लोग प्यार करेंगे। इसके लिए जरूरी है कि भारत के लोगों की आकांक्षाओं को सपनों को समझते हुये आने वाले दिनों में नई भारत की रूप रेखा तैयार की जाये।

उन्होंने कहा कि अन्य राजनीतिक दलों की तरह इस बार लोकसभा चुनाव के पूर्व भारत राजनीतिक घोषणा पत्र जारी नहीं करेगा बल्कि संकल्प पत्र तैयार करेगा और उसी संकल्प पत्र के आधार पर नया भारत की कहानी लिखी जाएगी। इसके पूर्व बिहार के सड़क निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा कि साल 2014 में लोगों ने मोदी को प्रधानमंत्री के पद पर बैठाया था। पिछले साढ़े चार सालों में उन्होंने देश के लिए जो कुछ किया है वह सबके सामने है। अब हम 2019 के 10 करोड़ लोगों की रायशुमारी से संकल्प पत्र तैयार कर रहे हैं। संचार के विभिन्न माध्यमों का इस्तेमाल करते हुये 10 करोड़ लोग नया भारत कैसा हो? इस बारे में अपना सुझाव देंगे।

इस अवसर पर भाजपा के वरिष्ठ नेता और बिहार के प्रदेश के प्रभारी भूपेंद्र यादव ने कहा कि अब तक राजनीति में हमेशा एक तरफा निर्णय लेने का रिवाज रहा है। देश में ऐसा पहली बार हो रहा है जब कोई राजनीतिक दल अपने घोषणा पत्र के लिए लोगों से सुझाव मांग रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में आज भारत विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है। भविष्य में भारत के विकास की दिशा क्या होगी, इसके लिए भाजपा की ओर से विधिवत लोगों के सुझाव के आधार पर संकल्प पत्र तैयार किया जा रहा है। संकल्प पत्र समिति के अध्यक्ष गृहमंत्री राजनाथ सिंह ही हैं । इसके साथ ही 12 उप समितियां भी गठित की गई हैं । देशभर में 350 रथों को दौड़ाया जा रहा है जिसके जरिये लोगों से सीधे संवाद किये जायेंगे । विभिन्न विधानसभा और लोकसभा क्षेत्रों में 7500 सुझाव पेटिका रखी गई हैं जिसमें लोग अपने-अपने सुझाव उन पेटिकाओं में डाल सकते हैं।

बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार ने कहा कि देश के विकास मॉडल को पूरी दुनिया में सराहा जा रहा है। अब नये भारत के निर्माण के लिए आगे की तैयारी करने की जरुरत है। यही वजह देश के विकास के लिए लोगों से सीधे सुझाव मांगे जा रहे हैं। इस अवसर पर कुछ लोगों ने सीधे गृहमंत्री को अपने सुझाव भी दिये।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY