जहरीली शराब से 16 की मौत, मुख्यमंत्री ने दिए जांच के आदेश

लखनऊ, (हि.स.)। प्रदेश में कुशीनगर के बाद अब सहारनपुर में जहरीली शराब से मौतों का मामला सामने आया है। जनपद में शुक्रवार को सोलह लोगों की जहरीली शराब पीने से मौत हो गई, जबकि करीब बारह लोगों की हालत अभी भी गम्भीर बनी हुई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसे गम्भीरता से लेते हुए मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये तथा अस्पतालों में उपचार करा रहे प्रभावितों को पचास-पचास हजार रुपये की आर्थिक सहायता दिये जाने की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने दोनों जनपदों के जिला आबकारी अधिकारियों के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं।

सहारनपुर के नागल और गागलहेड़ी क्षेत्र में शुक्रवार को जहरीली शराब ने कई परिवारों की खुशियों पर हमेशा के लिए ग्रहण लगा दिया। सोलह लोगों की मौत हो गई, जबकि बारह की हालत गंभीर बनी हुई है। जनपद में नागल क्षेत्र के गांव उमाही में शराब के सेवन से मरने वालों में इमरान (48),पिंटू (32) व कमरपाल (32) और अरविंद (30) बताए जा रहे हैं। वहीं जहरीली शराब पीने से अन्य दस लोगों की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है। सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एसएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि पहली मौत नागल थाना क्षेत्र के गांव माही की है। वहां रहने वाला दिव्यांग पिंटू अवैध रूप से शराब बेचता है। गुरुवार की रात को भी गांव के तमाम लोग उससे शराब लेकर गए थे। इसके बाद उनकी तबियत बिगड़ने लगी। शुक्रवार सुबह सभी की हालत और ज्यादा खराब हो गई और शराब बेचने वाले पिंटू सहित अन्य पंद्रह लोगों की मौत हो गई।

इसके अलावा गागलहेड़ी थाना क्षेत्र के गांव शरबतपुर में भी जहरीली शराब पीने से तीन लोगों की मौत हो गई है। मरने वालों में दीपचंद (40) पुत्र कुबूल सिंह निवासी गांव माली मृत अवस्था में जिला अस्पताल लाया गया। गांव सलेमपुर में भी जहरीली शराब पीने से सत्यवान पुत्र बलवंत और संजय पुत्र यशपाल की मौत हो गई है जबकि तीन लोगों की हालत काफी गंभीर बनी हुई है। इन्हें जॉलीग्रांट ले जाया गया है। पुलिस ने जहरीली शराब पीने से गांव माली, शरबतपुर, सलेमपुर और गांव उमाही में अब तक कुल सोलह लोगों की मौत होने की पुष्टि की है। गौरतलब है कि कुशीनगर के तरयासुजान थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से दस लोगों की मौत हो गई है। गुरुवार को पांच और लोगों की मौत हो गई, इससे पहले बुधवार को भी पांच लोगों ने दम तोड़ा था। शासन ने इस मामले में थानेदार और आबकारी निरीक्षक समेत नौ लोगों को निलम्बित कर दिया है।

मुख्यमंत्री ने लिया संज्ञान, कार्रवाई के निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद कुशीनगर और सहारनपुर में अवैध शराब से हुई लोगों की मृत्यु की घटना का संज्ञान लिया है। उन्होंने इन जनपदों के जिलाधिकारियों को प्रभावित व्यक्तियों की समुचित चिकित्सा सुनिश्चित किये जाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने इन घटनाओं के मृतकों के आश्रितों को दो-दो लाख रुपये तथा अस्पतालों में उपचार करा रहे प्रभावितों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता दिये जाने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने प्रमुख सचिव आबकारी को इन दोनों जनपदों के जिला आबकारी अधिकारियों के विरुद्ध विभागीय कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं। साथ ही, पुलिस महानिदेशक को इन जनपदों के पुलिस अधिकारियों का दायित्व निर्धारित करने के लिए कहा है। उन्होंने आबकारी और पुलिस विभाग को अवैध शराब से जुड़े लोगों के विरुद्ध 15 दिनों का संयुक्त अभियान चलाने के निर्देश भी दिये हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY