बर्फबारी और बारिश की आफत से ठिठुरा उत्तर भारत, दिल्ली-एनसीआर में बारिश के साथ गिरे ओले

नई दिल्ली, (हि.स.)।पर्वतीय राज्यों जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में ताजा बर्फबारी और पश्चिमी विक्षोभ के चलते दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत के ज्यादातर राज्यों में एक बार फिर मौसम का मिजाज बदल गया है।बर्फबारी और सर्द हवाओं ने ठंड बढ़ा दी है।

जम्मू कश्मीर में बर्फबारी और हिमस्खलन का जनजीवन पर बुरा असर पड़ा है। मौसम विभाग का कहना है कि अब ठंड के साथ कोहरा भी परेशान करेगा। देश के कई राज्यों में अगले कुछ दिनों तक माैसम का मिजाज खराब रहने की आशंका जताई गई है। दिल्ली-एनसीआर में सुबह की बारिश के बाद गुरुवार शाम को भी बारिश के साथ ही ओले पड़े। कई इलाकों में आलम ये रहा कि ओलावृष्टि के बाद नजारा बर्फबारी जैसा लग रहा था। नोएडा, फरीदाबाद, दिल्ली समेत एनसीआर के कई शहरों में बारिश के साथ ओलावृष्टि और हवा के झोंकों ने ठंड बढ़ा दी है। आसमान में बादल कुछ इस कदर छाए कि दिन में ही रात का अहसास होने लगा। तेज हवा के साथ हुई बारिश से कई स्थानों पर पेड़ और खम्भे गिरने की घटनाएं हुई हैं, जिसका असर विद्युत आपूर्ति और सड़क यातायात पर पड़ा है।

जम्मू-कश्मीर में 78 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया

कश्मीर में भारी बर्फबारी के बाद बर्फबारी और हिमस्खलन के खतरे के मद्देनजर कुंड कुलगाम में रहने वाले लगभग 50 परिवारों तथा गुंड कंगन के 28 परिवारों को जम्मू-कश्मीर पुलिस और स्थानीय प्रशासन द्वारा निकाल कर सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित कर दिया गया। हिमस्खलन के कारण बनिहाल में कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। बर्फबारी व खराब मौसम के चलते श्रीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से गुरुवार को भी कईं उड़ानों को रद्द कर दिया गया। इनमें स्पाइस जेट 161, एयर एशिया 15-713/714, गो एयर 129/128 तथा इंडिगो 6ई-2554 शामिल हैं। जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद होने के कारण कश्मीर का देश व दुनिया से संपर्क पूरी तरह से कट गया है। इसी बीच जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों की लम्बी-लम्बी कतारें लगी हुई है। अनंतनाग, बारामूला, कुलगाम, गुलमर्ग में भारी बर्फबारी के कारण कईं लिंक मार्ग भी बंद हो गए हैं। इस दौरान मैदानी इलाकों में हो रही बारिश के कारण मार्ग पूरे पानी से भर गए हैं, जिससे लोग अपने घरों के भीतर ही बंद होकर रह गए हैं। जम्मू संभाग के मैदानी इलाकों में जहां एक और मध्यम से भारी बारिश हो रही है। पहाड़ी इलाकों कठुआ, उधमपुर, बनी बनिहाल, राजौरी तथा पुंछ में बर्फबारी के कारण लोगों की परेशानियां बढ़ गई हैं। कईं पहाड़ी इलाकों में बारिश के कारण भूस्खलन भी हुआ है, जिससे यातायात में बाधा पहुंच रही है।

हि.प्र. के चम्बा में सभी स्कूल में 8 फरवरी को छुट्टी

घोषित हिमाचल प्रदेश के मैदानी एवं निचले क्षेत्रों में गुरुवार को बारिश और ओलावृष्टि के साथ आसमानी बिजली गिरने से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। चम्बा जिले में आज हो रही बर्फबारी और भारी बारिश के मद्देनजर जिला प्रशासन ने 8 फरवरी को जिले के सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखने का फैसला किया है। डीसी चंबा हरिकेश मीणा ने बताया कि आदेश की प्रतियां एलिमेंटरी और उच्च शिक्षा के उपनिदेशकों को भी आवश्यक कार्यवाही के लिए भेज दी गई हैं। लाहौल-स्पीति, किन्नौर, कुल्लू, शिमला और चम्बा के ऊंचे क्षेत्रों में गुरुवार को दिनभर हिमपात होता रहा। कांगड़ा, हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना और मंडी जिलों में आसमानी बिजली के साथ बारिश, अंधड़ और ओलावृष्टि ने कोहराम मचाया। कांगड़ा जिले के पालमपुर में आसमानी बिजली गिरने से तीन घरों को नुकसान पहुंचा है। इन्हें एहतियातन खाली करवा दिया गया है। हालांकि, इससे किसे हताहत होने की सूचना नहीं है। ऊना जिले में बारिश-ओलावृष्टि से गेहूं एवं अन्य फसलों को नुकसान पहुंचा है। राजधानी शिमला एवं आसपास के क्षेत्रों में भी दोपहर बाद अंधड़ के साथ बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। शिमला से सटे पर्यटकस्थल कुफरी एवं नारकंडा में फिर हिमपात हो रहा है। इससे ऊपरी शिमला के लिए वाहनों की आवाजाही पर असर पड़ा है।

उत्तराखंड में हिमपात और बारिश

उत्तराखंड के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी और निचले इलाकों में बारिश होने से प्रदेश के ज्यादातर इलाके फिर कड़ाके की ठंड की चपेट में आ गये हैं। प्रदेश के उच्च हिमालयी क्षेत्रों जैसे बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, हेमकुंड साहिब, नंदादेवी राष्ट्रीय पार्क, औली, मुनस्यारी सहित चमोली, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़ और रुद्रप्रयाग जिलों के कई हिस्सों में ताजा बर्फबारी शुरू हो गई है। प्रदेश के कम ऊंचाई वाले क्षेत्रों तथा मैदानी इलाकों में बारिश हो रही है जिससे मौसम में कंपकंपी और ठिठुरन बढ़ गयी है। चमोली में ठंड के चलते लोग घरों में दुबकने को मजबूर हो रहे है। गुरुवार को सुबह से ही हल्की बारिश शुरू हो गई थी, जो दोहपर तक तेज हो गई। दोपहर तक हिमक्रीडा स्थली औली, गौरसों, बदरीनाथ, हेमकुंड, चोपता, तुंगनाथ आदि स्थानों पर जमकर बर्फबारी हुई।

पंजाब-हरियाणा में भी बारिश के साथ ओले गिरे

पंजाब में मोहाली, अमृतसर, लुधियाना, पटियाला, गुरुदासपुर, पठानकोट और जालंधर में बारिश हुई। चंडीगढ़ में भी गुरुवार सुबह भारी बारिश हुई और काले बादल छाए रहे। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि हरियाणा के अंबाला, पंचकूला और करनाल में बारिश हुई है। फरीदाबाद में बारिश के साथ ओले भी गिरे हैं। मौसम विभाग ने पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में शुक्रवार तक और बारिश का पुर्वानुमान व्यक्त किया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY