मर्द और औरत समान हैं, उन्हें अपनी जिम्मेदारियां बांटनी चाहिए: दीपशिखा

  • आपके लिए अर्धांगिनी का असली मतलब क्या है?
    मेरे लिए अर्धांगिनी एक ऐसे दंपति हैं जो शादी के हर पहलू में परिपूर्ण हैं। यह ऐसा साथ है, जिसमें दोनों पार्टनर अपने काम के प्रति समान रूप से जिम्मेदार हैं और हर तरह से एक दूसरे के लिए एक मजबूत सहारा बनते हैं। ज्यादातर मामलों में हम देखते हैं कि मर्द अपने परिवार के प्रति अपने कर्तव्य को लेकर लापरवाह हो जाते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि सबका ख्याल रखने की जिम्मेदारी घर की औरत पर ही है। इस तरह की सोच और ऐसे व्यवहार को बदलने की जरूरत है। मैं अपने बेटे को यह सिखाना चाहूंगी कि मर्द और औरत समान हैं और समान रूप से जिम्मेदारी निभाते हैं। इस शुरुआती उम्र में वो पति-पत्नी के रिश्तों को बेहतर ढंग से समझ सकेगा।
  • दर्शकों ने आपको बहुत समय से टीवी पर नहीं देखा है। इस शो में यह रोल चुनने के लिए आपको किस बात ने प्रेरित किया?
    ‘मैं भी अर्धांगिनी’ आम सास-बहू ड्रामा से बिल्कुल अलग है जो आप टेलीविजन पर देखते हैं। नीलांबरी का किरदार बेहद प्रभावशाली है और इसे बड़ी खूबसूरती से लिखा गया है, जिसके चलते मैं स्क्रिप्ट के प्रति आकर्षित हुई। नीलांबरी इस शो की महत्वपूर्ण किरदार है जो अपने व्यक्तित्व से दर्शकों पर गहरा प्रभाव बनाती है। मुझे हमेशा ग्रे शेड वाले रोल आॅफर किए गए लेकिन इस बार नीलांबरी का किरदार पूरी तरह से डार्क नहीं है। जहां वो अपने परिवार के प्रति नेगेटिव है वहीं वो अपने बेटे को लेकर जरूरत से ज्यादा प्रोटेक्टिव है और हमेशा उसके लिए बेस्ट चाहती है। जब मेकर्स ने इस रोल के लिए मुझसे संपर्क किया तो उन्हें यकीन था कि वे मुझे ही कास्ट करना चाहते हैं क्योंकि उन्हें महसूस हुआ कि मेरा प्रभावी व्यक्तित्व इस किरदार के लिए बिल्कुल फिट रहेगा। ऐसे में दमदार रोल करने का मेरा लंबा इंतजार, ‘मैं भी अर्धांगिनी‘ के किरदार नीलांबरी देवी पर आकर खत्म हुआ।
  • क्या नीलांबरी आपके व्यक्तित्व से मेल खाती है? अब मां का रोल निभाते हुए कैसा महसूस कर रही हैं?
    एक इंसान के तौर पर मैं बहुत मजबूत हूं क्योंकि जब मैं छोटी थी तो मेरे परिवार की स्थिति ही कुछ ऐसी थी जिनका सामना मैंने किया है। जिंदगी की शुरुआत से मैंने उन सच्चाइयों का सामना किया, जिनने मुझे एक मजबूत इंसान बनाया। अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में मैं थोड़ी बहुत नीलांबरी की तरह हूं। मैं अपने बच्चों के प्रति सख्त, प्रोटेक्टिव हूं और हमेशा उनके लिए बेस्ट चाहती हूं लेकिन दूसरी ओर मैं विनम्र भी हूं जो नीलांबरी नहीं है क्योंकि वो हमेशा शातिर योजनाएं बनाती रहती है। मैं यह भी मानती हूं कि वो दिन हवा हुए जब कलाकार स्क्रीन पर टिपिकल मां का रोल करती थे। आज यह रोल स्टाइल और ग्लैमर से भरा है और मैं भी रियल लाइफ में ऐसी ही हूं। मैंने यह रोल इसलिए भी किया क्योंकि इसमें मुझे एक पारंपरिक सास की भूमिका निभाने का मौका मिला जो अपनी जिंदगी में बेहद महत्वाकांक्षी है।
  • इस शो में अपने रॉयल लुक के बारे में बताएं?
    नीलांबरी में सौंदर्य, शक्ति और आकर्षण है। ये तीनों शब्द उसके ड्रेसिंग स्टाइल, बॉडी लैंग्वेज और कमांड में झलकते हैं। वो एक बेहद पारंपरिक महिला है, जिसका प्रभावशाली व्यक्तित्व है। नीलांबरी के लुक को बहुत सोच-समझकर तैयार किया गया है। मुझे इस किरदार की प्रस्तुति बहुत पसंद आई।
  • अदिति, अंजली और अविनाश के साथ शूटिंग करने के क्या अनुभव रहे?
    मेरा अब तक का अनुभव बहुत शानदार रहा। हर पैक अप के बाद हम सभी लोग डिनर के लिए मिलते हैं। यह बहुत बढ़िया रूटीन है क्योंकि हम सभी अलग-अलग पृष्ठभूमि और अलग-अलग पीढ़ी के हैं। ऐसे में उनके साथ अच्छा वक्त गुजारना बहुत बढ़िया रहता है।
  • आप एक ऐसी इंसान हैं, जो जोश और जिंदगी से भरी हैं और किसी भी नेगेटिव किरदार से पूरी तरह विपरीत हैं? ऐसे में पर्दे पर ग्रे किरदार निभाना कितना मुश्किल रहता है?
    अपने शुरुआती दिनों में मुझे नेगेटिव रोल निभाना पसंद नहीं था, क्योंकि दर्शकों को बस वो किरदार याद रहता है और फिर वो रील और रियल में फर्क नहीं कर पाते। मुझे नेगेटिव प्रतिक्रियाएं मिलती थीं क्यांेकि दर्शकों को लगता था कि मैं अच्छी नहीं हूं। लेकिन समय के साथ दर्शकों का नजरिया बदला और अब दर्शक ऐसे किरदार देखना पसंद करते हैं, जो थोड़े चटपटे हों और कहानी में नए-नए रोमांचक मोड़ लेकर आएं। जब मुझे यह बात समझ आई तो फिर मैंने अपने काम को एंजॉय करना शुरू कर दिया और अब मैं ऐसे दमदार रोल करने में अच्छा महसूस करती हूं, जिनमें नकारात्मक पक्ष होता है।
  • आप पहले भी नेगेटिव रोल निभा चुकी हैं। ऐसे में यह किरदार आपके पिछले किरदारों से किस तरह अलग है?
    नीलांबरी एक महत्वाकांक्षी और आत्मविश्वास से भरी औरत है। वो अपने परिवार को अपने नियंत्रण में रखती है और उन पर अधिकार जताना उसे अच्छा लगता है। उसके अंदर असुरक्षा का भाव है, क्योंकि उसे लगता है कि वो पारिवारिक संपत्ति खो देगी। यह पूरी कहानी बड़ी दिलचस्प है और दर्शकों के लिए शानदार मनोरंजन साबित होगी। हालांकि इस किरदार में ग्रे शेड हैं, लेकिन साथ ही वो अपने बेटे को लेकर जरूरत से ज्यादा पजेसिव है और उस पर अपना प्यार जताने के लिए वो गलत चीजें करती रहती है। यह बड़ा दिलचस्प किरदार है जो टेलीविजन पर आम तौर पर देखने को नहीं मिलता।
  • यह पहली बार है जब आप घर से दूर शूटिंग कर रही हैं, ऐसे में आप परिवार को समय कैसे दे पाती हैं? क्या आपको घर की याद नहीं आती?
    यह पहली बार नहीं है, जब मैं बाहर शूटिंग कर रही हूं। मैं बहुत छोटी उम्र से काम कर रही हूं। हां, घर और बच्चों से दूर रहना मुश्किल जरूर है, लेकिन मैंने उनमें अपने काम को लेकर एक समझ पैदा की है और उन्होंने बहुत कम उम्र से यह समझ लिया और इसे स्वीकार भी कर लिया है। शुरुआत में मैं जयपुर में शिफ्ट होने को लेकर थोड़ी झिझक रही थी, लेकिन फिर मेरे बच्चों ने यह प्रोजेक्ट लेने के लिए मेरी हिम्मत बढ़ाई और इस तरह मैं यहां पर आ गई। मुझे भी अक्सर घर की याद आती है और मैं भी अपने बच्चों को मिस करती हूं लेकिन मुझे अपने काम से भी उतना ही लगाव है। मैं खुशकिस्मत हूं कि मैं अपनी प्रोफेशनल और पर्सनल लाइफ दोनों को आसानी से संभाल पाती हूं।
  • आपका किरदार ‘तीखी छुरी‘ की तरह है, तो आप अपने किरदार को जयपुर के किस व्यंजन से जोड़ेंगी?
    नीलांबरी बिल्कुल ‘मिर्ची के सालन‘ की तरह है, जो आपको जयपुर में मिलता है। यह मसालेदार है, चटपटा और स्वादिष्ट है और लोग इसके जायके का लुत्फ उठाना पसंद करते हैं। इसी तरह नीलांबरी भी सालन की तरह है। वो मसालों से भरपूर है और अपनी शातिर योजनाएं और शो में लोगों के खिलाफ साजिशों से दर्शकों को लुभाएगी।
  • अपने चेहरे की चमक और खुद को शेप में बनाए रखने के लिए आप क्या करती हैं? आप सेट पर इतनी एक्टिव कैसे रहती हैं? आपके जैसा ग्लो पाने के लिए महिलाओं को आप कुछ टिप्स देना चाहेंगी?
    मैं यह सुनिश्चित करती हूं कि मैं हेल्दी डायट प्लान अपनाऊं और किसी भी तरह का अनहेल्दी खाना बिल्कुल न खाऊं। जब भी संभव होता है मैं वॉक करने निकल जाती हूं क्योंकि यहां जयपुर में जिम नहीं है। इसके अलावा मैं अपने खाने की मात्रा पर नजर करती हूं और कभी भी ज्यादा नहीं खाती। मैं सभी महिलाओं से अपील करती हूं कि वो अपना ख्याल रखे और स्वस्थ और फिट बने रहें।
  • अपने आगामी प्रोजेक्ट्स के बारे में बताएं?
    मेरी एक फिल्म आने वाली है जो किन्नरों पर आधारित है और जल्द रिलीज होगी। लेकिन इस समय मेरा ध्यान नीलांबरी देवी का किरदार निभाने पर है। मैं देखना चाहती हूं कि दर्शक इस पर क्या प्रतिक्रिया देते हैं, क्योंकि मुझे यकीन है कि यह उनके लिए एक विजुअल ट्रीट होगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY