वे समाज में माहौल भड़काते हैं, कांग्रेस प्यार और अमन चैन करती है : राहुल गांधी

अजमेर/जयपुर, (हि.स.)। लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने मजबूत स्तंभ सेवादल को फिर से खड़ा करने की तैयारी कर ली है। इन्हीं तैयारियों के बीच कांग्रेस सेवादल का अजमेर में गुरुवार से शुरू हुए छठे अधिवेशन में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने शिरकत की।

राहुल गांधी ने सेवादल से माफी भी मांगी। उन्होंने कहा कि अब तक कांग्रेस और संगठन में बिसराए से रहे सेवादल को अब पूरा सम्मान दिया जाएगा। राहुल गांधी ने अपने 18 मिनट के भाषण में पांच मिनट मोदी और आरएसएस पर हमले बोले। वहीं शेष मिनटों में उन्होंने सेवा दल और उसकी विचारधारा पर अपना संबोधन दिया। राहुल ने पीएम नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया कि वे मेरे और मेरे परिवार तथा कांग्रेस के लिए अर्नगल बोलते हैं, उनके दिल में नफरत है। मैंने उनकी नफरत को गले लगकर प्यार से दबाया।

आरएसएस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि वे समाज में वैमनस्य फैलाने और माहौल भडक़ाने का काम करते हैं, वहीं कांग्रेस प्यार और अमन चैन भाईचारे की बात करती है। यही फर्क उनमें और कांग्रेस में है। मंच से राहुल गांधी ने चौकीदार चोर है के नारे लगवाए और कहा कि देश के चौकीदार ने अंबानी-अड़ानी की तिजोरियां पैसों से भरी हैं। राहुल ने कहा कि नफरत को नफरत से नहीं बल्कि प्यार से ही जीता जा सकता है। मंच से ही राहुल ने सेवादल से माफी मांगी और कहा कि सेवादल को जो सम्मान मिलना चाहिए, वह उन्हें मिला नहीं है।

उन्होंने पटना में हुई रैली का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस की रैली में एनएसयूआई, महिला कांग्रेस, यूथ कांग्रेस सभी का नाम लिया गया, लेकिन सेवादल का नाम नहीं लिया। उन्होंने भरोसा दिलाया कि सेवादल को पूरा सम्मान मिलेगा। कांग्रेस शासित राज्यों में मुख्यमंत्री व मंत्री सेवादल के कार्यकर्ताओं को तरजीह देंगे। राहुल ने अपने संबोधन में कहा कि सेवा दल का कार्यकर्ता लोगों के बीच में जाए और प्यार-अमन और भाईचारे का संदेश दे। उन्होंने कहा कि हम नफरत व हिंसा में विश्वास नहीं करते। सेवादल का काम सेवा और अपनी विचारधारा के माध्यम से धरातल पर काम करते हुए देश को कमजोर करने वाली ताकतों के खिलाफ वैचारिक लड़ाई लड़ने का है।

ये भी रहे मौजूद:

सेवादल महाअधिवेशन में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, उप मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट, प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, सेवादल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालजी भाई देसाई, राजस्थान सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष एवं विधायक राकेश पारीक, सह प्रभारी तरुण कुमार, काजी निजामुद्दीन, विवेक बंसल, मंत्री, विधायक व विभिन्न राज्यों से आए हजारों सेवादल कार्यकर्ता मौजूद रहे। दो दिन के अधिवेशन के पहले दिन कार्यकर्ताओं ने विभिन्न विषयों और विचारधारा पर चर्चा की। कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने भी सेवादल कार्यकर्ताओं का हौंसला बढ़ाया।उन्होंने कहा कि सेवादल ने शुरू से देश को जोडऩे का काम किया है। टकराव और जहर की राजनीति करने वाले लोग दिल्ली में बैठे हैं, उनको हराना हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY