सुरक्षा और सुविधाओं की मांग को लेकर प्रदेश के वकील हड़ताल पर

भोपाल (हि.स.)। सुरक्षा, सुविधाएं एवं अन्य मांगों को लेकर प्रदेश के वकील मंगलवार को हड़ताल पर हैं। वकीलों की यह हड़ताल बार कौंसिल ऑफ इंडिया के आह्वान पर की गई है। इसके चलते प्रदेश की विभिन्न अदालतों में कामकाज ठप है।

बार कौंसिल ऑफ इंडिया के आव्हान पर देशभर के 20 लाख से अधिक वकील मंगलवार को प्रतिवाद दिवस मना रहे हैं और हड़ताल पर हैं। इसका असर प्रदेश में हाईकोर्ट से लेकर निचली अदालतों तक देखा जा रहा है। विभिन्न अदालतों में लंबित हजारों मामलों की सुनवाई नहीं हो पा रही है। स्टेट बार कौंसिल के अध्यक्ष शिवेन्द्र उपाध्याय और स्टेयरिंग कमेटी के संयोजक आदर्शमुनि त्रिवेदी ने बताया कि वकीलों के अधिकारों की रक्षा, न्यायपालिका की स्वतंत्रता, लोकतांत्रिक मूल्यों एवं संस्थाओं की रक्षा तथा अधिवक्ताओं की सुरक्षा और कल्याण के लिए पहले भी केन्द्र और राज्य सरकारों से मांग की जाती रही है, लेकिन सरकारों ने इस संबंध में कुछ नहीं किया। इसी के चलते प्रदेश के वकील हड़ताल पर हैं।

ये हैं प्रमुख मांगें: जिन मांगों को लेकर बार कौंसिल ऑफ इंडिया ने मंगलवार को हड़ताल का आह्वान किया है, उनमें अधिवक्ताओं के बैठने के लिए चेम्बर, हॉल, ई-लायब्रेरी, अधिवक्ता और उनके परिवारों के लिए इंश्योरेंस सुविधा, पेंशन और पांच वर्ष तक स्टायफंड की सुविधा देने की मांग शामिल है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY