जेट के शेयर के लिए गोयल और एतिहाद ने लगाई बोली

नई दिल्ली, (एजेंसी)। नकदी के संकट से जूझ रही जेट एयरवेज में हिस्सेदारी खरीदने के लिए साल लोगों (कंपनियों) ने एक्सप्रेशन ऑफ इंट्रेस्ट (ईओआई) सब्मिट किया है। इनमें एतिहाद और जेट के संस्थापक नरेश गोयल का भी नाम शामिल है। अन्य पांच जिन लोगों ने शनिवार को बोली लगाई है, उनमें कैलिफॉर्निया स्थित इन्वेस्टमेंट फर्म टीपीडी, फीनिक्स में मौजूद प्राइवेट इक्विटी फर्म इंडिगो पार्टनर्स, रेडक्लिफ और थिंक इक्विटी और जेट के एग्जिक्यूटिव वाइस प्रेजिडेंट शामिल हैं। उधर जेट एयरवेज के कर्मचारी संगठन ने एयरलाइन के फाउंडर नरेश गोयल, सीईओ विनय दुबे और एसबीआई के चेयरमैन रजनीश कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

जेट एयरवेज के संस्‍थापक नरेश गोयल और उनकी पत्‍नी के इस्‍तीफा देने के बाद से एसबीआई जेट के कर्जदाता बैंकों का नेतृत्व कर रहा है। इसके अलावा एयरलाइन के रेजोल्यूशन प्लान पर भी एसबीआई काम कर रहा है। इसबीच जेट एयरवेज के कर्मचारी सैलरी नहीं मिलने से नाराज हैं। जेट के ऑल इंडिया ऑफिसर्स एंड स्टाफ एसोसिएशन के प्रमुख किरण पावसकर ने सहार पुलिस स्टेशन में शिकायत की है। सहार की मांग है कि एयरलाइन ने कर्मचारियों का मार्च का वेतन नहीं दिया है, इसलिए कंपनी पर धोखाधड़ी, भरोसा तोड़ने, फंड के दुरुपयोग और दूसरे अपराध के तहत भी मामला दर्ज कर कार्रवाई की जाए।

एविएशन सचिव ने कहा, सोमवार तक निकलेगा समाधान

एविएशन सचिव खरोला ने कहा है कि शुक्रवार को जेट के 11 विमानों ने उड़ान भरी, लेकिन शनिवार और रविवार को यह संख्या छह-सात ही रहेगी। यह पूछने पर कि क्‍या सोमवार तक संचालन के लिए एयरलाइन के पास पर्याप्त फंड उपलब्ध है? तो इस पर खरोला ने सकारात्मक जवाब दिया।

खरोला के मुताबिक जेट एयरवेज की बैंकों के साथ मीटिंग हुई है। बैठक में अंतरिम फंड उपलब्ध करवाने की मांग रखी गई है। बैंकों ने जेट एयरवेज से कहा है कि वो अंतरिम फंडिंग के प्रस्ताव को दुरुस्त करे। सोमवार को एयरलाइन फिर से बैंकों से संपर्क करेगी, जिसके बाद बैंक फैसला लेंगे। फिलहाल, एसबीआई के नेतृत्व में बैंकों का समूह जेट एयरवेज को संभाल रहा है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY