राजग ने नरेन्द्र मोदी को चुना अपने दल का नेता

नई दिल्ली, (एजेंसी)। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने शनिवार को सर्वसम्मति से नरेन्द्र मोदी को अपने दल का नेता चुन लिया। संसद के केंद्रीय कक्ष में राजग की हुई बैठक में यह निर्णय किया गया।
मोदी के लिए पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री और शिरोमणि अकाली दल के नेता प्रकाश सिंह बादल ने प्रस्ताव रखा और फिर बिहार के मुख्यमंत्री नितिश कुमार, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक दल के रामविलास पासवान, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानी स्वामी, नागालैंड के मुख्यमंत्री निफो रियो और मिजोरम के मुख्यमंत्री के.संगमा ने उनके प्रस्ताव का समर्थन किया।
इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह ने मोदी के नाम का प्रस्ताव रखा, जिसका पहले राजनाथ सिंह और फिर नितिन गड़करी ने समर्थन दिया। बाद में पार्टी के सभी निर्वाचित सदस्यों ने हाथ उठाकर मोदी का समर्थन किया। बाद में मोदी ने राजग संसदीय दल की बैठक को संबोधित भी किया। नेता चयन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद शाम को राजग ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की।
गौरतलब है कि 17वीं लोकसभा के लिए हुए चुनाव में राजग को 353 सीटें मिली हैं। इसके लिए शनिवार को संसदीय दल के नेता के चयन की प्रक्रिया संसद के केंद्रीय कक्ष में पूरी की गई। इस दौरान केंद्रीय कक्ष में जो स्थिति देखने को मिली वह बिल्कुल अतुलनीय नजर आई। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केन्द्रीय मंत्रियों, भाजपा के वरिष्ठ नेताओं, राजग के घटक दलों के अध्यक्षों व राज्यों के मुख्यमंत्रियों और नवनिर्वाचित सांसदों के अलावा राज्यसभा सदस्यों ने भी भाग लिया।
मंच पर सुषमा स्वराज, रामविलास पासवान, राजनाथ सिंह, अमित शाह, मोदी और उनके बगल में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी व पलानी स्वामी आदि बैठे थे। जैसे ही मोदी का केंद्रीय कक्ष में प्रवेश हुआ तो सभी नेताओं ने देश में राजग को मिली विराट जीत के लिए मोदी को मेज थपथपाकर बधाई दी। सबसे पहले शाह ने मोदी का स्वागत किया और उन्हें पुष्पगुछ और पटका पहनाया। कक्ष का नजारा तब और गुंजायमान हो गया जब मोदी के पहुंचने के बाद सभी ने मोदी-मोदी के नारे लगाए गए।
अपने स्वागत के समय मोदी ने आडवाणी और जोशी के पैर भी छुए। कक्ष में मंच का संचालन नरेन्द्र सिंह तोमर कर रहे थे और सबसे पहले उन्होंने भाजपा संसदीय दल के रूप में नेता चुने जाने के लिए राजनाथ सिंह के नाम को पुकारा। बाद में राजग संसदीय दल के नेता के लिए प्रकाश सिंह बादल ने मोदी के नाम का प्रस्ताव रखा। फिर सभी मोदी को सर्वसम्मति से अपना नेता चुन लिया।हिस

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY