ये है MP का उसेन बोल्ट, रिजिजू बोले- ‘कोई इसे मेरे पास लाओ’, तो शिवराज ने की ये अपील…..

भोपाल. जब भी दुनिया में 100 मीटर की रेस में सबसे तेज दौड़ने वाले धावक की बात आती है तो उसमें जमैका के धावक उसेन बोल्ट का नाम सबसे पहले लिया जाता है. हालांकि अब वो अब नहीं दौड़ते हैं.

पर हाल ही में मध्य प्रदेश के रहने वाले 19 साल के रामेश्वर गुर्जर के नंगे पांव सड़क पर दौड़ने वाले एक वीडियो ने सनसनी मचा दी है.

इसमें वो 100 मीटर की रेस महज 11 सेकेंड में पूरी करता दिखाई दे रहा है. रामेश्वर गुर्जर मध्यप्रदेश के शिवपुरी जिले के नर्वर गांव का रहने वाला है. रामेश्वर को दौड़ता देख लोग इसकी दुनिया में सबसे तेज दौड़ने वाले धावक उसेन बोल्ट से तुलना कर रहे हैं.

ये वीडियो कुछ समय से तेजी से वायरल हो रहा है. मध्य प्रदेश के खेल मंत्री जीतू पटवारी भी एमपी के उसैन बोल्ट रामेश्वर की स्पीड से खासे प्रभावित हैं.

इस वीडियो ने राज्य सरकार के बाद केंद्र सरकार के खेल और युवा कल्याण मंत्री किरेन रिजिजू (Kiren Rijiju) का ध्यान अपनी ओर खींचा है. रिजिजू ने धावक को एथलेटिक अकादमी में रखने की व्यवस्था करने का आश्वासन दिया है.

बच्चों में मामा के नाम से लोकप्रिय मध्यप्रदेश के मुखिया रह चुके शिवराज सिंह चौहान ने धावक रामेश्वर गुर्जर को अच्छा मौका और मंच दिलवाने के लिए ट्विटर के जरिए खेल मंत्री किरेन रिजिजू से समर्थन मांगा था.

रामेश्वर गुर्जर का परिवार खेती-बाड़ी का काम करता है. उनके परिवार में माता-पिता और पांच भाई-बहन हैं. रामेश्वरम ने 10वीं कक्षा तक पढ़ाई की है. रामेश्वर ने परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण आगे पढ़ाई नहीं की.

इसके पहले, शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने वीडियो शेयर करते हुए रामेश्वर की जमकर तारीफ की थी और खेल मंत्रालय से मदद करने की अपील भी की थी.

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY