अमित जोगी को बड़ा झटका, 14 दिन की न्यायिक रिमांड पर जेल भेजने का आदेश

बिलासपुर । छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के पुत्र और जनता कांग्रेस छत्तीगढ़ (जे) के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी को जाति मामले में बड़ा झटका लगा है। पुलिस ने मंगलवार की सुबह अमित जोगी को मरवाही सदन से गिरफ्तार कर पेंड्रा प्रथम न्यायिक मैजिस्ट्रेट असलम खान की कोर्ट में प्रस्तुत किया गया, जहां अमित जोगी ने अपनी पैरवी स्वयं की औऱ जिरह पूरी होने के उपरांत प्रथम न्यायिक मैजिस्ट्रेट खान ने अमित जोगी की याचिका को खारिज कर दी। साथ ही अमित जोगी को 14 दिन की न्यायिक रिमांड पर जेल भेजने का फैसला सुनाया। न्यायिक रिमांड में उन्हें गोरखपुर उपजेल भेज दिया गया है।

अमित जोगी ने कहा कि प्रकरण को एडीजे कोर्ट पेंड्रा में चुनौती दी जाएगी। अमित जोगी ने कोर्ट परिसर से बाहर आते हुए कहा कि यह उच्च न्यायालय की अवमानना का मामला है । उन्होंने भूपेश बघेल की राजनैतिक साजिश बताते हुए कांग्रेस-भाजपा की सांठ-गांठ का खेल बताया है। अमित ने कहा कि भूपेश न्यायालय से ऊपर खुद को समझने लगे हैं।

इधर, अमित जोगी की गिरफ्तारी के बाद राजधानी रायपुर में मुख्यमंत्री निवास, राज्यपाल निवास समेत सिविल लाइन थाने की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। साथ ही अतिरिक्त बल भी तैनात कर दिया गया है। अमित जोगी की गिरफ्तारी को लेकर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के कार्यकर्ता मुख्यमंत्री निवास का घेराव कर सकते हैं, इसी के चलते भारी संख्या में सुरक्षा बल के जवानों को सीएम हाउस के आस-पास तैनात कर दिया गया है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY