आज से बदल गए कैश लेन-देन के नियम

नई दिल्ली। 1 सितंबर 2019 से वैसे तो कई नियम बदलने जा रहे हैं. लेकिन एक नियम ऐसा भी है जिसके बदल ने का सीधा असर आप पर पड़ेगा. दरअसल 1 सितंबर 2019 से कैश में लेन-देन के नियम बदलने जा रहे हैं.

मोदी सरकार बदलने जा रही ये नियम-
मोदी सरकार ने एक सीमा से अधिक के कैश निकालने पर 2 फीसदी टीडीएस यानी की धन के स्रोत पर कर की कटौती लगाने जा रही है. यानी अगर कोई शख्स एक वित्तीय वर्ष में एक करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि को अपने बैंक, पोस्ट ऑफिस या फिर को-ऑपरेटिव बैंक के खाते से निकलता है तो उसे 2 फीसदी तक टीडीएस देना होगा

ये है नियम बदलने का कारण-

मोदी सरकार ने ये कदम मंदी को कम करने और अर्थव्यवस्था की रफ्तार को बढ़ाने के लिए किया है. इस कदम को उठाने के पीछे का एक कारण कैशलेस इकॉनमी को बढ़ावा देना भी है. साथ ही ये कदम बड़े नकद लेनदेन को रोकने के लिए भी उठाया गया है.

इन पर नहीं लागू होगा ये नियम-

आपको बता दें कि यह नियम सरकार, बैंकिंग कंपनी, बैंकिंग में लगी सहकारी समिति, डाकघर, बैंकिंग प्रतिनिधि और व्हाइट लेबल एटीएम पारिचालन करने वाली इकाइयों पर लागू नहीं होगा, क्योंकि बिजनेस करने के लिए लोगों को भारी मात्रा में नकद का इस्तेमाल करना पड़ता है.

बजट में किया था ये ऐलान-

वित्त मंत्री ने लोकसभा में बजट पर चर्चा का जवाब देते हुए बताया कि वित्त वर्ष 2017-18 में 448 कंपनियों ऐसी रहीं हैं जिन्होने काफी नकदी निकासी की है. इन कंपनियों ने बैंक खातों से 5.56 लाख करोड़ रुपए की नकद निकासी की है.यही वजह है कि सरकार ये नियम लागू कर रही है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY