गुरुग्राम में तेज रफ्तार का कहर, दो भाइयों की मौत

गुरुग्राम । भले ही देश में ट्रैफिक को लेकर एक सितम्बर से नया कानून लागू हो गया हो, लेकिन गुरुग्राम में तेज रफ्तार गाडिय़ां चलाने के शौकीन लोगों को इसकी कोई फिक्र नहीं है। कानून लागू होने के बाद पहली ही रात को यहां तेज रफ्तार का कहर एक परिवार पर टूटा, जिसने परिवार के दो चिराग बुझा दिए।

पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने सोमवार को बताया कि हादसे के बाद कार चालक फरार है। कार को जब्त कर चालक की तलाश जारी है।

यहां के गोल्फ कोर्स एक्सटेंशन रोड पर रविवार देररात दो नाबालिग सगे भाई गोलगप्पे के ठेले को लेकर घर जा रहे थे। उस समय रोड के आसपास पर लोगों की चहलकदमी भी थी। अवकाश का दिन होने के चलते लोग आसपास घूम भी रहे थे। सिंगापुर की फीलिंग देने वाले इस क्षेत्र में सिकंदरपुर चौक से लेकर सेक्टर-56 गोल चक्कर तक नॉनस्टॉप सड़क है यानी यहां अंडरपास से होते हुए आप बिना रुके कई किलोमीटर का सफर तय कर सकते हैं।

इसी बीच तेज गति से आ रही एक लैंड रोवर कार की टक्कर उन दोनों भाइयों को लगी, जोकि अपने गोल गप्पे के ठेले को लेकर जा रहे थे। टक्कर इतनी भयंकर थी कि दोनों दूर जाकर गिरे और दोनों की मौत हो गया। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची। तब तक कार का चालक मौका पाकर फरार हो चुका था। पुलिस ने दोनों के शवों का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए।

पुलिस प्रवक्ता के अनुसार मरने वाले दोनों सगे भाई थे, जिनकी उम्र 14 व 16 साल थी। तेज स्पीड से कार चलाने वालों पर यहां शिकंजा कसा जाएगा। एजेंसी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY